Sambhal: 1 हसीना को ‘बेगम’ बनाने पहुंचे 3 दीवाने, ऐसा हंगामा कटा कि देखते रह गए लोग

संभल: आपने लव ट्रैंगल के बारे में तो खूब सुना होगा लेकिन आज हम आपको एक ऐसे मामले से रूबरू करवाने जा रहे हैं जिसमें एक दो नहीं बल्कि चार एंगल हैं. जी हां, उत्तर प्रदेश के संभल जिले में ऐसा ही एक मामला सामने आया है जहां एक युवती से शादी करने के लिए 3 युवक पहुंच गए और उसके घर जोरदार हंगामा किया.

एक के बाद एक तीन युवक पहुंचे

एक युवक ने युवती से 1 साल पहले निकाह होने का दावा किया, तो दूसरा युवक निकाह के लिए दूल्हा बनकर पहुंच गया. तीसरे युवक ने युवती का प्रेमी होने का हवाला देकर युवती से निकाह का दावा पेश कर युवती के घर पर जमकर हंगामा कर डाला. निकाह के लिए दावेदार तीनो युवकों के हंगामा करने पर युवती ने एक युवक से निकाह करने का फैसला कर अन्य दो युवकों पर बेवजह परेशान करने का आरोप लगाया है.

 

जमकर हुआ हंगामा

मामला संभल में हयात नगर थाना इलाके के सराय तरीन मोहल्ले का है. मामला मंगलवार का बताया जा रहा है. जानकारी के मुताबिक युवती के निकाह की तैयारिया चल रही थी, इसी दौरान इलाके का ही एक युवक युवती के घर पहुंच गया और युवती के निकाह को रोकने के लिए हंगामा करने लगा. युवक का कहना था कि युवती से एक वर्ष पूर्व उसका निकाह हो चुका है. युवती के परिवार के लोग बहला-फुसलाकर जबरन दूसरे युवक से उसका निकाह करा रहे हैं. युवक ने युवती से निकाह का निकाहनामा भी लोगों को दिखाया.

इसी बीच दूसरा युवक बैंड बाजा बारात के साथ दूल्हा बनकर युवती के घर पहुंचा. उसने युवती का निकाह अपने साथ तय होने की जानकारी देकर युवती से निकाह कराए जाने की जानकारी लोगों को दी. दोनों युवक युवती से निकाह के मामले को लेकर हंगामा कर ही रहे थे कि इसी दौरान एक तीसरा युवक भी वहां पहुंच गया. उसने युवती का प्रेमी होने की बात कही.

 

बिना कार्रवाई किए लौटी पुलिस

एक युवती से निकाह के लिए तीन दावेदारों के सामने आने से युवती के परिजनों और तीनों युवकों के बीच जमकर हंगामा होने लगा. हंगामे की सूचना पर पुलिस भी मौके पर पहुंच गई और पूरे मामले की जानकारी के बाद पुलिस बिना कार्रवाई किए वापस चली गई.

पंचायत में हुआ फैसला

पुलिस के जाने के बाद इलाके के लोगों की पंचायत की गई. पंचायत में युवती से पूछताछ की गई तो युवती ने एक युवक से निकाह का फैसला सुनाकर अन्य दो युवकों पर बेवजह परेशान करने का आरोप लगा दिया. युवती की सहमति के बाद पंचायत ने एक साल पहले निकाह होने का दावा करने वाले युवक को निकाह में खर्च हुई रकम देकर वापस भेज दिया. जबकि दूसरे युवकों को बिरादरी का न होने का हवाला देकर पंचायत ने युवती से निकाह की रजामंदी से इंकार कर दिया. फिलहाल तीसरे युवक से युवती के निकाह की तैयारी की जा रही है.

Check Also

17 अगस्त से शुरू होगा यूपी विधानसभा का मानसून सत्र, कोरोना प्रोटोकॉल का किया जाएगा पालन

लखनऊ: उत्तर प्रदेश विधानसभा का मानसून सत्र 17 अगस्त से शुरू होगा. विधानसभा सत्र में …