Salary Hike: कर्मचारियों के लिए अच्छी खबर! नए साल से पहले सरकार ने इन कर्मचारियों की सैलरी में बढ़ोतरी की

Salary Hike 2023, Government Announcement, Employee Benefits, New Year Career Boost, Job Perks Alert, Career Success, Positive Work Changes, Work Hard Rewards, Job Satisfaction, Career Development
Salary Hike 2023, Government Announcement, Employee Benefits, New Year Career Boost, Job Perks Alert, Career Success, Positive Work Changes, Work Hard Rewards, Job Satisfaction, Career Development

MCD Worker Salary Hike: आम आदमी पार्टी (AAP) के नेतृत्व वाली दिल्ली नगर निगम (MCD) ने अपने कर्मचारियों का न्यूनतम वेतन बढ़ाने का फैसला किया है. एमसीडी के एक अधिकारी ने सोमवार को यह जानकारी दी. उन्होंने कहा कि एमसीडी के अकुशल श्रमिकों के लिए मासिक न्यूनतम वेतन 16,792 रुपये से बढ़कर 17,234 रुपये हो जाएगा. अर्ध-कुशल श्रमिकों की मजदूरी 18,499 रुपये से बढ़कर 18,993 रुपये और कुशल श्रमिकों की मजदूरी 20,375 रुपये से बढ़कर 20,903 रुपये हो जाएगी।

1 अप्रैल से लाभ मिलेगा

अधिकारियों ने बताया कि 1 अप्रैल से सभी एमसीडी कर्मचारियों को महंगाई भत्ते का भुगतान किया जाएगा. आम आदमी पार्टी ने 1 अप्रैल से सभी एमसीडी कर्मचारियों के लिए महंगाई भत्ते की घोषणा की थी। न्यूनतम वेतन बढ़ाने पर सरकार का प्रस्ताव एमसीडी सदन की अगली बैठक में मंजूरी के लिए रखा जाएगा। एमसीडी अधिकारी ने कहा कि सदन से मंजूरी मिलने के बाद निगम कर्मचारियों का संचित महंगाई भत्ता जारी कर दिया जाएगा.

अब ऐसी व्यवस्था है

एमसीडी सदन की बैठक के एजेंडे के मुताबिक, लिपिक और पर्यवेक्षी कर्मचारियों के लिए न्यूनतम वेतन में भी वृद्धि की जाएगी। प्रस्ताव के अनुसार, गैर-मैट्रिक पास कर्मचारियों के लिए न्यूनतम वेतन बढ़कर 18,993 रुपये हो जाएगा, मैट्रिक पास लेकिन स्नातक नहीं करने वाले कर्मचारियों के लिए यह बढ़कर 20,902 रुपये हो जाएगा और स्नातक और उससे ऊपर के कर्मचारियों के लिए न्यूनतम वेतन बढ़कर 22,744 रुपये हो जाएगा। इन कर्मचारियों के लिए महंगाई भत्ता क्रमश: 494 रुपये, 546 रुपये और 598 रुपये प्रति माह होगा.

निगम की सत्ता मिलने के बाद केजरीवाल सरकार लगातार इसकी हालत सुधारने का दावा कर रही है. सरकार का फोकस एमसीडी से जुड़े मुद्दों पर नजर आ रहा है. कुछ समय पहले सीएम केजरीवाल ने कहा था कि एमसीडी कर्मचारियों की सैलरी 13 साल बाद पहली तारीख को आई है. ऐसा इसलिए हुआ क्योंकि हमारी पार्टी की नियत और नीति दोनों साफ है.

एमसीडी में आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस (एआई) की मदद

दिल्ली नगर निगम ने सभी वार्डों में सफाई, रोशनी आदि से संबंधित शिकायतों के निवारण के लिए एमसीडी ऐप 311 शुरू किया था। लेकिन, बड़ी संख्या में लोगों द्वारा इस्तेमाल न किए जाने के कारण यह ऐप उतना कारगर साबित नहीं हुआ। इसके बाद निगम ने अपने क्षेत्र में सफाई और अन्य सभी कार्यों, खासकर सड़कों की सही स्थिति जानने के लिए आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस (एआई) की मदद लेना शुरू कर दिया है.

पायलट प्रोजेक्ट शुरू हो गया है. जिसके तहत एमसीडी एक एजेंसी के जरिए तीन वार्ड पटेल नगर, कोटला मुबारकपुर और प्रीत विहार की समस्याओं का समाधान करेगी. एमसीडी ने आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस के जरिए शिकायतों का समाधान करने के लिए अधिकारियों और कर्मचारियों को ट्रेनिंग देने की तैयारी की है.