रोहित शर्मा का रांची से है पुराना नाता, आंकड़े देख उड़ी अंग्रेजों की नींद

भारत और इंग्लैंड के बीच पांच मैचों की टेस्ट सीरीज का चौथा टेस्ट मैच रांची में खेला जाएगा। भारत सीरीज में 2-1 से आगे है. अब जिस मैदान पर टीम इंडिया चौथा टेस्ट मैच खेलने जा रही है वह मैदान कप्तान रोहित शर्मा के लिए बेहद खास है. रोहित ने 5 साल पहले 2019 में दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ रांची में टेस्ट मैच खेला था. जिसमें इस दिग्गज बल्लेबाज ने रनों का पहाड़ खड़ा कर दिया. रोहित शर्मा की इस खास पारी के लिए उन्हें प्लेयर ऑफ द मैच चुना गया. अब एक बार फिर भारतीय टीम रांची में टेस्ट मैच खेलने जा रही है और टीम की कप्तानी रोहित शर्मा के हाथों में है. जिसके बाद भारतीय फैंस उम्मीद कर रहे हैं कि रोहित एक बार फिर 2019 जैसी खास पारी खेलेंगे.

रोहित शर्मा ने रांची टेस्ट में सर्वश्रेष्ठ स्कोर बनाया

टीम इंडिया के कप्तान रोहित शर्मा ने इस मैदान पर आखिरी टेस्ट मैच 2019 में साउथ अफ्रीका के खिलाफ खेला था. उस मैच में रोहित शर्मा ने शानदार बल्लेबाजी की और 255 गेंदों पर 212 रनों की शानदार पारी खेली. इस पारी की खास बात यह रही कि रोहित शर्मा ने 212 में से 148 रन चौकों और छक्कों की मदद से बनाए. इस खास पारी के लिए रोहित शर्मा को प्लेयर ऑफ द मैच चुना गया। भारतीय फैंस को एक बार फिर अपने पसंदीदा बल्लेबाज से ऐसी ही पारी की उम्मीद होगी.

 

 

 

राजकोट में शतक लगाया

राजकोट में खेले गए तीसरे टेस्ट में पहली पारी में कप्तान रोहित शर्मा ने शानदार शतक लगाया. एक समय 33 के स्कोर पर 3 विकेट खोने के बाद उन्होंने कप्तानी की यह पारी खेली. रोहित की इस पारी के बाद उनके फॉर्म में आने के संकेत मिले. अब फैंस को एक बार फिर रांची टेस्ट में उनसे बड़ी पारी की उम्मीद है. आपको बता दें कि टीम इंडिया की बल्लेबाजी में रोहित शर्मा और शुभमन गिल ही अनुभवी बल्लेबाज हैं. उनके अलावा यशस्वी जयसवाल (7 टेस्ट), रजत पाटीदार (2 टेस्ट), सरफराज खान (1 टेस्ट) और ध्रुव जुरेल (1 टेस्ट) को अब तक टेस्ट मैच खेलने का बहुत कम अनुभव है।

 

 

 

 

फोकस सीरीज में अजेय बढ़त लेने पर होगा

टीम इंडिया ने इंग्लैंड के खिलाफ गेंदबाजी, बल्लेबाजी और फील्डिंग सभी विभागों में शानदार प्रदर्शन किया है. हैदराबाद टेस्ट मैच हारने के बाद भारत ने शानदार वापसी की और इंग्लैंड को बड़े अंतर से हरा दिया. अब कप्तान रोहित शर्मा का लक्ष्य रांची टेस्ट मैच जीतकर सीरीज में 3-1 की अजेय बढ़त लेने का होगा. जिसके लिए खुद कप्तान रोहित शर्मा को एक बार फिर से कप्तानी की पारी खेलनी होगी. हालांकि, रांची टेस्ट में बुमराह की गैरमौजूदगी भी भारत को काफी खलेगी.