Republic Day 2022 Speech: गणतंत्र दिवस पर स्‍टूडेंट्स और टीचर कैसे दें भाषण, यहां देखें शानदार आइडिया

Republic Day 2022 Speech: पूरे देश में गणतंत्र दिवस को मनाने की तैयारियां बड़े धूमधाम से चल रही हैं. भारतवासी हर साल पूरे जोश के साथ 26 जनवरी को गणतंत्र दिवस मनाते हैं. दिल्ली के राजपथ पर होने वाला परेड (Republic Day parade) गणतंत्र दिवस का मुख्य आकर्षण अलग-अलग राज्यों की झांकियां होती हैं. इस वर्ष देश बुधवार, 26 जनवरी, 2022 को अपना 73वां गणतंत्र दिवस मनाएगा. Republic Day के अवसर पर, स्कूल और कॉलेज कई प्रतियोगिताओं जैसे वाद-विवाद, भाषण, निबंध जैसे समारोह का आयोजन करते हैं. आप भी इस मौके पर स्पीच देने की योजना बना रहे हैं, तो यहां हम कुछ निबंध और भाषण, स्‍पीच के टिप्स (Republic Day 2022 Speech Tips) दे रहे हैं, जिनका आप उपयोग कर सकते हैं.

गणतंत्र दिवस (Republic Day 2022) के मौके पर स्टूडेंट्स और टीचर के द्वारा तैयार किया जाने वाला भाषण अलग-अलग हो सकता है. भाषण की तैयारी करने से पहले विषय का चुनाव करें. भाषण के लिए- गणतंत्र दिवस का इतिहास और महत्व, भारत का संविधान, तिरंगे का इतिहास या गणतंत्र दिवस के परेड जैसे विषय को चुन सकते हैं. यहां आपको 26 जनवरी पर भाषण के 2 आसान उदाहरण दे रहे हैं जिनका इस्तेमाल आप अपने लिए कर सकते हैं.

भाषण 1

भाषण की शुरुआत में सबसे पहले सभी को नमस्‍कार, करने के बाद कार्यक्रम में मौजूद सभी अतिथियों का धन्यवाद करें. फिर बोलना शुरू करें. हम सभी आज अपने देश का 73वां गणतंत्र दिवस मनाने के लिए यहां एकत्रित हुए हैं. मैं गणतंत्र दिवस पर भाषण देने के लिए सम्मानित महसूस कर रहा हूं. गणतंत्र दिवस हर साल 26 जनवरी को हमारे दिलों में बहुत खुशी, खुशी और गर्व के साथ मनाया जाता है. आज ही के दिन 1950 में भारतीय संविधान लागू हुआ था. हम सभी जानते हैं कि भारत को स्वतंत्रता 15 अगस्त 1947 को मिली थी, लेकिन राष्ट्र का अपना कोई संविधान नहीं था. इसी दिन यानी 26 जनवरी 1950 को हमारे देश का संविधान लागू हुआ था जिसे बाबा साहब डॉक्टर भीम राव अंबेडकर ने बनाया था.

आज इसी संविधान के वजह से मारा देश पूर्ण गणतंत्र है. इस दिन सबसे पहले भारत के प्रधानमंत्री और राष्ट्रपति इंडिया गेट पर स्थित अमर जवान ज्योति पर देश के शहीदों को श्रद्धांजलि देते हैं. एक लोकतांत्रिक देश में रहना हम सबके लिए गर्व की बात है. मैं अपना भाषण यह कहकर समाप्त करना चाहूंगा कि एक सच्चे राष्ट्रभक्त की तरह देश को एक बेहतर जगह बनाने में योगदान दे सकते हैं. धन्यवाद जय हिंद.

भाषण 2

गणतंत्र दिवस के राष्ट्रीय पर्व पर सभी को नमस्कार, यह सिर्फ एक और राष्ट्रीय अवकाश नहीं है और सम्मान की भावना है क्योंकि भारत को 1950 में ब्रिटिश शासन से स्वतंत्रता मिली और ‘पूर्ण स्वराज’ मिला. 26 जनवरी का हमारे देश के लिए बहुत महत्व है. इसी दिन 1930 में भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस ने लाहौर अधिवेशन में पूर्ण स्वतंत्रता की मांग की घोषणा की थी. उसके बाद उसी दिन 1950 में भारत एक गणतंत्र के रूप में अस्तित्व में आया.

गणतंत्र दिवस हम सभी भारतीयों के अंदर हर्ष, उल्लास और नवीन चेतना का संचार करता है. देशवासियों को यह संकल्प लेने के लिए भी प्रेरित करता है कि वो अमर शहीदों के बलिदान को व्यर्थ नहीं जाने देंगे और अपने देश की रक्षा, गौरव और उत्थान के लिए सदा समर्पित रहेंगे. धन्यवाद जय हिंद!

Check Also

CUET UG 2022: NTA ने समय सीमा बढ़ाने के बाद एप्लिकेशन विंडो को फिर से खोल दिया। cuet.samarth.ac.in पर अभी आवेदन करें

CUET UG 2022: नेशनल टेस्टिंग एजेंसी (NTA) ने कॉमन यूनिवर्सिटी एडमिशन टेस्ट (CUET) UG 2022 की …