‘रवि शास्त्री ने ना जाने कौन सा रॉकेट ज्ञान दिया था…’ सुनील गावस्कर ने शमी के बदलाव का सुनाया किस्सा

नई दिल्ली. महान बल्लेबाजों में शुमार सुनील गावस्कर (Sunil Gavaskar) ने बताया है कि किस तरह पेसर मोहम्मद शमी (Mohammed Shami) को तत्कालीन कोच रवि शास्त्री (Ravi Shastri) ने आत्मविश्वास से भरा, जब भारतीय टीम साल 2018 में दक्षिण अफ्रीका के दौरे पर गई थी. शमी ने दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ न्यूलैंड्स में तीसरे टेस्ट में शानदार स्पैल फेंका और एक ही ओवर में 2 विकेट झटके जिससे मैच का रुख बदला.

मोहम्मद शमी ने तेंबा बावुमा (Temba Bavuma) का अहम विकेट लिया जो मजबूत नजर आ रहे थे और क्रीज पर जम चुके थे. इसके बाद उन्होंने विकेटकीपर बल्लेबाज काइल वेरेन को भी आउट किया. इससे पहले दिन में उमेश यादव और जसप्रीत बुमराह ने भी अच्छा खेल दिखाया. दक्षिण अफ्रीका की पहली पारी 217 रन पर सिमटी. बुमराह ने कमाल का प्रदर्शन किया और 5 विकेट झटके, जबकि शमी और उमेश यादव ने 2-2 विकेट लिए. शार्दुल ठाकुर को भी 1 विकेट मिला.

 

शमी ने 16 ओवर में 39 रन देकर 2 विकेट लिए और पूरे समय शानदार लय में दिखे. सुनील गावस्कर ने 2018 के दक्षिण अफ्रीका दौरे में शमी के उसी तरह के स्पेल को याद किया जिसने तेज गेंदबाज के करियर में जान डाल दी थी. गावस्कर ने कमेंट्री के दौरान बताया कि रवि शास्त्री के शब्दों ने किस तरह शमी को उत्साह से भर दिया था. उन्होंने कहा, ‘वांडरर्स, साल 2018 में जब शमी को शास्त्री ने शायद एक ‘रॉकेट’ ज्ञान दिया था. शमी ने उससे पहले कुछ खास नहीं किया था. शास्त्री ने ड्रेसिंग रूम में शमी से कहा था- इस पिच पर अगर आप विकेट नहीं ले पाए तो… मैं नहीं जानता कि इसमें शास्त्री का कौन सा रॉकेट था.’

उन्होंने आगे कहा, ‘…और फिर वह बाहर आए और दक्षिण अफ्रीका के बल्लेबाजी लाइन-अप को पूरी तरह बिगाड़ दिया. कभी-कभी आप जानते हैं कि एक खिलाड़ी के आत्मविश्वास को बढ़ाने की जरूरत होती है. कभी-कभी आपको बस जाल में फंसाना पड़ता है.’

Check Also

बायर्न म्यूनिख सीजन के अंत में सुएले के प्रस्थान की पुष्टि

बायर्न म्यूनिख के सीईओ ओलिवर कान ने बुधवार को पुष्टि की कि जर्मनी के सेंटर-बैक …