वर्चुअल इंटरेक्शन में राजस्थान की प्रतिभा ने दिया वर्चुअल ट्रेवल का सुझाव

जयपुर, 15 जनवरी (हि.स.)। देश भर की पारम्परिक कला एवं संस्कृति के प्रमोशन पर कार्य कर रहे स्टार्टअप राजस्थान स्टूडियो के सीईओ एवं फांउडर कार्तिक गग्गर ने शनिवार को स्टार्ट अप इंडिया इनोवेशन के तहत आयोजित वर्चुअल इंटरेक्शन में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के समक्ष प्रस्तुतीकरण दिया।

जयपुर स्थित एनआईसी कार्यालय में आयोजित इस वर्चुअल इंटरेक्शन में कार्तिक ने भारत के 9 राज्यों और 11 शहरों के 26 स्टार्टअप का प्रतिनिधित्व करते हुए प्रधानमंत्री के समक्ष लोकल टू ग्लोबल थीम पर केन्द्रित नीतिगत सुझाव भी दिये। यह इंटरेक्शन भारत सरकार के वाणिज्य और उद्योग मंत्रालय के उद्योग एवं आंतरिक व्यापार संवर्धन विभाग (डीपीआईआईटी) द्वारा आयोजित किया गया था। इस अवसर पर केंद्रीय मंत्री पीयूष गोयल, डॉ मनसुख मंडाविया, अश्विनी वैष्णव, सर्बानंद सोनोवाल, पुरुषोत्तम रूपाला, जी किशन रेड्डी, पशुपति कुमार पारस, डॉ जितेंद्र सिंह एवं सोम प्रकाश भी उपस्थित थे।

इस अवसर पर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने कार्तिक गग्गर के वर्चुअल ट्रैवल के सुझाव की प्रशंसा करते हुए कहा कि आजादी के 75वें साल के अवसर पर देश के स्कूल एवं कॉलेजों के बच्चों का एक कॉम्पीटिशन करवाया जा सकता है, जिसमें वे अपने-अपने जिले और शहर में आजादी से जुड़ी घटनाओं, स्मारकों एवं इतिहास के पन्नों पर वर्चुअल क्रियेटिव वर्क करें। इनका आप जैसे स्टार्टअप द्वारा कम्पाइलेशन किया जाए और आजादी के 75वें वर्ष के निमित्त सम्पूर्ण देश को वर्चुअल ट्यूर के लिए आमंत्रित किया जाए। पीएम मोदी ने आगे कहा कि ‘आजादी का अमृत महोत्सव‘ में स्टार्टअप दुनिया की ओर से यह बहुत बड़ा योगदान होगा।

कार्तिक गग्गर ने बताया कि प्रधानमंत्री मोदी के समक्ष पॉलिसी रिकमेन्डेशन पर प्रस्तुतीकरण देना उनके लिए बेहद गर्व की बात है। वे बहुत ही उत्साहित हैं। इस वर्चुअल इंटरेक्शन में लोकल टू ग्लोबल थीम के महत्व, मुख्य कारकों, स्टेकहोल्डर्स को लेकर यह प्रस्तुतीकरण दिया गया। उन्होंने आगे बताया कि हमारे देश के सामाजिक एवं आर्थिक विकास में ट्रैवल, टूरिज्म और एजुकेशन सेक्टर का बेहद महत्वपूर्ण स्थान है। वर्तमान युवा पीढ़ी की बढ़ती ट्रैवल नीड्स को देखते हुए इस सेक्टर में कई अवसर हैं।

उन्होंने आगे बताया कि वर्चुअल ट्रैवल के माध्यम से भारत को दुनिया भर में पसंदीदा देश बनाने, ऑथेंटिक ट्रैवल एक्सपीरियंसेज द्वारा इंडियन टूरिज्म को प्रमोट करने और भारत स्थित वर्ल्ड की बेस्ट रोड को मौजूदा थिमेटिक सर्किट्स के अनुसार मैपिंग की जाए तो देश के रूरल टूरिज्म और संस्टेनेबल टूरिज्म को प्रोत्साहन मिलेगा।

उल्लेखनीय है कि भारत की आजादी के 75वें वर्ष पर ‘आजादी का अमृत महोत्सव‘ के तहत 10 जनवरी से 16 जनवरी तक स्टार्टअप इंडिया इनोवेशन वीक के एक भाग के रूप में यह इंटरेक्शन आयोजित किया गया था। इस अवसर पर जयपुर के अतिरिक्त चेन्नई, हैदराबाद, बेंगलुरु, पुणे, नोएडा एवं इंदौर से भी विभिन्न स्टार्टअप्स के प्रतिनिधि भी शामिल हुए।

Check Also

कोरोना के इलाज में कारगर साबित हो रही घुटने की दवा, डब्ल्यूएचओ ने संक्रमितों पर इस्तेमाल की दी इजाजत

कोरोना वायरस का संक्रमण जिस तेजी से फैल रहा है। उतनी ही तेजी से संक्रमितों …