शासन की योजनाओं और निर्माण कार्यों में जनता की संतुष्टि जरूरी : शिवराज

l_bhopal230922073504_734

भोपाल, 23 सितंबर (हि.स.)। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि शासन की योजनाओं से हितग्राहियों को लाभांवित करें, विकास और निर्माण कार्यों की गुणवत्ता सुनिश्चित करें। कार्यों के प्रति जनता को संतुष्टि मिलना चाहिए। उत्कृष्ट कार्य करने वालों को पुरस्कृत किया जाएगा और लापरवाही बतरने वालों पर कार्रवाई की जाएगी।

मुख्यमंत्री चौहान शुक्रवार को डिंडौरी जिले के ग्राम जोगी टिकरिया में मुख्यमंत्री जन सेवा शिविर को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने डिंडौरी जिले में प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना में हितग्राहियों को लाभांवित करने की धीमी प्रगति के कारण जिला आपूर्ति अधिकारी टीआर अहिरवार को निलंबित करने और योजना में कार्य करने वाली गैस एजेंसियों की जाँच भी करने के निर्देश दिए। कार्यक्रम में केन्द्रीय इस्पात एवं ग्रामीण विकास राज्य मंत्री फग्गन सिंह कुलस्ते सहित विधायक जन-प्रतिनिधि, अधिकारी और बड़ी संख्या में ग्रामीणजन उपस्थित रहे।

मुख्यमंत्री ने कहा कि जबलपुर से अमरकंटक तक फोर लाईन सड़क का निर्माण कार्य 400 करोड़ रुपये की लागत से पूरा किया जाएगा। डिंडौरी से शहडोल मार्ग का निर्माण भी गुणवत्तापूर्वक पूरा किया जाएगा। इससे लोगों को आवागमन में सुविधा होगी। उन्होंने जोगीटिकरिया में नर्मदा नदी के घाटों का सौंदर्यीकरण करने की बात कही। नर्मदा नदी के घाटों का सौंदर्यीकरण करने से श्रद्धालुओं को नर्मदा नदी के दर्शन एवं स्नान करने में सुविधा होगी।

उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री जन सेवा अभियान 31 अक्टूबर तक जारी रहेगा। अभियान में शासन की योजनाओं से हितग्राहियों को लाभांवित करने के लिए ग्राम पंचायतवार शिविर लगाये जा रहे हैं। शिविर में हितग्राहियों का चयन कर उन्हें केन्द्र और राज्य सरकार की योजनाओं से लाभांवित किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री जन सेवा अभियान में सभी पात्र हितग्राहियों का चयन कर उन्हें शासन की योजनाओं से लाभांवित किया जाए।

मुख्यमंत्री ने कहा कि जल जीवन मिशन में घर-घर तक नल से पेयजल पहुँचाया जाएगा। इससे ग्रामीण परिवारों को पेयजल समस्या से जूझना नहीं पडे़गा। लोगों को पानी के लिए दूर-दूर तक पैदल जाने की समस्या दूर हो जाएगी। उन्होंने मिशन अंतर्गत जिले में संचालित 351 नलजल योजनाओं के कार्यों को गुणवत्तापूर्वक पूरा करने के निर्देश दिये। उन्होंने कहा कि मिशन के कार्यों की जनता भी मॉनीटरिंग करेगी। उन्होंने कहा कि निर्माण कार्यों में संतुष्टि नहीं होने पर सीएम हेल्पलाईन 181 में शिकायत दर्ज करें।

उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि और मुख्यमंत्री किसान-कल्याण योजना से किसानों को लाभांवित किया जा रहा है। प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि से किसानों को प्रतिवर्ष 6 हजार रूपए तथा मुख्यमंत्री किसान कल्याण योजना से प्रतिवर्ष 4 हजार रुपये प्रदान किये जाते हैं। उन्होंने डिंडौरी में योजनाओं से लाभांवित होने वाले किसानों की संख्या के अंतर को 15 दिवस में पूरा करने के निर्देश दिए हैं।

मुख्यमंत्री ने कहा कि कमजोर वर्ग के लोगों को अच्छी और बेहतरीन स्वास्थ्य सुविधा देने के लिए आयुष्मान कार्ड बनाये जा रहे हैं। इससे लोगों को साल में 5 लाख रुपये तक के इलाज कराने की सुविधा मिलेगी। मुख्यमंत्री जन सेवा शिविर में 31 अक्टूबर तक सभी पात्र नागरिकों के आयुष्मान कार्ड अनिवार्य रूप से बनाया जाए। उन्होंने जिले के सभी किसानों के लिए किसान क्रेडिट कार्ड बनाने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि किसान क्रेडिट कार्ड से किसान शून्य प्रतिशत की दर से ऋण ले सकेंगे। किसानों को खाद, बीज और उर्वरक खरीदने के लिए पैसों की कमी नहीं होगी। उन्होंने दुग्ध के व्यवसाय को लाभदायक बताया। उन्होंने पशुपालकों को शासन की योजनाओं के माध्यम से दुधारू पशु उपलब्ध कराने के निर्देश दिए। उन्होंने पशु पालक और मछुआ समितियों को भी क्रेडिट कार्ड जारी करने के निर्देश दिये।

मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश में बेटियों को आर्थिक और सामाजिक रूप से सशक्त बनाने के लिए लाड़ली लक्ष्मी योजना प्रारंभ की गई है। इससे प्रदेश की बेटियों का उज्ज्वल भविष्य बन सके। बेटियों का जन्म होने पर उन्हें लाड़ली लक्ष्मी योजना का लाभ देकर लखपति बनाया जाता है। योजना में बेटियों को कक्षा 5वी, 8वी, 10वीं, 12वीं एवं स्नातक की परीक्षा उत्तीर्ण करने पर आर्थिक सहायता राशि दी जाती है। बेटियाँ जब 21 वर्ष की हो जाएंगी तो उन्हें एक लाख रुपये का अंतिम भुगतान कर उनका जीवन सरल बनाया जाएगा। प्रधानमंत्री मातृ वंदना योजना में गर्भवती महिलाओं को आर्थिक सहायता प्रदान की जा रही है। मुख्यमंत्री राशन आपके ग्राम योजना में दूर-सुदूर क्षेत्रों एवं मजरे-टोलों तक वाहन के माध्यम से राशन पहुँचाया जा रहा है।

उन्होंने जिले में प्रधानमंत्री आवास योजना प्लस से लाभांवित होने वाले हितग्राहियों के बारे में जानकारी ली। उन्होंने आवास योजना प्लस के कार्यों को शीघ्रता से प्रारंभ करने तथा हितग्राहियों के खातों में राशि जारी करने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री आवास योजना प्लस में गड़बड़ी करने वालों के विरूद्ध कार्रवाई की जायेगी।

मुख्यमंत्री ने कहा कि नीट/जेईई मेन्स में चयनित आर्थिक रूप से कमजोर विद्यार्थियों की फीस राज्य सरकार द्वारा भरी जायेगी। उन्होंने चयनित विद्यार्थियों को टैबलेट एवं डिक्शनरी प्रदान की। डिंडौरी जिले की 162 महिला स्व-सहायता समूहों को 3 करोड़ 54 लाख रुपये की राशि प्रदान की गई। लाड़ली लक्ष्मी योजना में हितग्राहियों को लाभांवित किया गया। ग्रामीण पथ विक्रेता योजना के 8 हितग्राहियों को अस्सी हजार रूपए का चेक वितरण किये। मुख्यमंत्री प्रसूती सहायता योजना सहित शासन की अन्य योजनाओं से हितग्राहियों को लाभांवित किया गया।

विकास कार्यों का भूमि-पूजन एवं लोकार्पण

मुख्यमंत्री ने मुख्यमंत्री जन सेवा शिविर में 12 करोड़ 64 लाख 50 हजार की लागत के निर्माण कार्यों का भूमि-पूजन और 25 करोड़ 74 लाख 58 हजार की लागत के निर्माण कार्यों का लोकार्पण भी किया।

Check Also

supreme court 26 sep_ 2022...._739

पीएमओ का सुप्रीम कोर्ट में हलफनामा, आईएफएस अफसर संजीव चतुर्वेदी ने दबाव बनाने के लिए मांगा कार्रवाई का ब्योरा

नई दिल्ली, 26 सितंबर (हि.स.)। प्रधानमंत्री कार्यालय (पीएमओ) ने कहा कि भारतीय वन सेवा के …