PSL 2021: 40 साल के बल्लेबाज ने 11 गेंद में 56 रन बनाकर लूटी महफिल, क्रिस गेल के चौके-छक्के रह गए फीके

40 साल के मोहम्मद हफीज (Mohammad Hafeez) ने टी20 क्रिकेट में अपनी धमक को बरकरार रखते हुए पाकिस्तान सुपर लीग (Pakistan Super League) में 22 फरवरी को तूफानी अर्धशतक लगाया. उन्होंने महज 33 गेंद में पांच चौकों और छह छक्कों के जरिए नाबाद 73 रन बनाए. इसके चलते लाहौर कलंदर्स (Lahore Qalandars) ने क्वेटा ग्लेडिएटर्स से मिले 179 रन के लक्ष्य को एक विकेट गंवाकर 10 गेंद बाकी रहते हासिल कर लिया. हफीज के साथ फख़र जमान ने 52 गेंद में नाबाद 82 रन बनाए. पाकिस्तानी नेवी में लेफ्टिनेंट जमान ने अपनी पारी में आठ चौके और दो छक्के उड़ाए. लाहौर ने टूर्नामेंट में लगातार दूसरी जीत दर्ज की और अंक तालिका में टॉप पर जगह बनाई. वहीं क्वेटा की टीम लगातार दो हार के साथ पैंदे में लुढ़क गई.

लाहौर के कप्तान सोहैल अख्तर ने टॉस जीता और फील्डिंग चुनी. शाहीन अफरीदी और हारिस रऊफने उनके फैसले को सही साबित किया. दोनों ने 12 रन तक क्वेटा के टॉम बैंटन (4) और सईम अयूब (3) को ड्रेसिंग रूम का रास्ता दिखा दिया. अब क्रीज पर टीम के कप्तान सरफराज अहमद और यूनिवर्स बॉस क्रिस गेल थे. गेल ने अपने अंदाज में बैटिंग की और स्कोरबोर्ड को आगे बढ़ाया. उन्होंने 40 गेंद में पांच चौकों और पांच छक्कों के जरिए 68 रन बनाए. यह उनका पाकिस्तान सुपर लीग में सबसे बड़ा स्कोर है. इस दौरान उन्हें जीभर के जीवनदान मिले. सरफराज इस दौरान क्रिस गेल को लगातार स्ट्राइक पर लाने का काम करते रहे. उन्होंने 33 गेंद में पांच चौकों से 40 रन बनाए.

महंगे रहे शाहीन अफरीदी

गेल-सरफराज के बीच तीसरे विकेट के लिए 101 रन की साझेदारी हुई. हारिस रऊफ ने सरफराज को आउट कर जोड़ी को तोड़ा. आखिर में मोहम्मद नवाज ने 20 गेंद में एक चौका और तीन छक्के लगाकर नाबाद 33 रन के जरिए टीम को 178 रन तक पहुंचाया. लाहौर के लिए हारिस रऊप ने सबसे ज्यादा तीन विकेट लिए. शाहीन अफरीदी महंगे रहे. उनके चार ओवर से 43 रन गए. वहीं डेविड वीज ने दो ओवर में 22 रन दे डाले.

हफीज-जमान की अटूट पार्टनरशिप

लक्ष्य का पीछा करते हुए लाहौर को फख़र जमान और सोहैल अख्तर ने बढ़िया शुरुआत दी. दोनों ने पहले विकेट के लिए 8.4 ओवर में 64 रन जोड़ दिए. जाहिद महमूद ने इस साझेदारी को तोड़ा और अख्तर को 21 रन पर आउट किया. इसके बाद क्वेटा को मैच में और कोई कामयाबी नहीं मिली. प्रोफेसर कहे जाने वाले हफीज ने आक्रामक तेवर के साथ बल्लेबाजी की और मनमर्जी से बड़े शॉट लगाए. फख़र भी उनसे पीछे नहीं रहे. क्वेटा का कोई गेंदबाज इन दोनों पर अंकुश नहीं लगा सका. दोनों ने दूसरे विकेट के लिए 58 गेंद में 115 रन की अटूट साझेदारी की. नतीजा यह हुआ कि लाहौर को आसानी से जीत मिल गई.

Check Also

कोपा डेल रे : सेविला को हराकर बार्सिलोना फाइनल में

बार्सिलोना : पहले लेग में 0-2 से पिछड़ने के बाद शानदार वापसी करते हुए बार्सिलोना …