सैकड़ों समर्थकों समेत प्रमोद खारी का कांग्रेस से इस्तीफा

1_250

हरिद्वार, 21 सितंबर (हि.स.)। उत्तराखंड कांग्रेस कमेटी के प्रदेश महामंत्री प्रमोद खारी ने पार्टी में उपेक्षा के चलते अपने सैकड़ों समर्थकों के साथ कांग्रेस के सभी पदों से इस्तीफा दे दिया है। प्रमोद खारी और उनके सैकड़ों समर्थक भाजपा की सदस्यता लेंगे। जिला पंचायत चुनाव में भाजपा समर्थित उम्मीदवारों को भारी बहुमत के साथ जीत दिलाने का कार्य करेंगे।

मध्य हरिद्वार स्थित एक होटल में प्रमोद खारी ने प्रेस वार्ता कर अपने कांग्रेस से इस्तीफा देने की घोषणा की। प्रमोद खारी ने बताया कि कांग्रेस ने मेरे राजनैतिक जीवन के साथ खिलवाड़ करने का कार्य किया। मैंने उत्तराखंड में कांग्रेस को जमीनी स्तर पर मजबूत करने का कार्य किया। उन्होंने कहा कि वे 22 वर्षों से कांग्रेस से जुड़ा रहा। कांग्रेस के छात्र संगठन उत्तराखंड एनएसयूआई का चार बार प्रदेश महामंत्री रहा। छात्र संघ चुनाव में इस संगठन को कोई जानता नहीं था। उन्होंने दिन-रात मेहनत करके भाजपा के अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद को हराया।

एनएसयूआई को छात्रों के बीच में पहुंचाया। कांग्रेस के लिए दिन रात कार्य किया। लेकिन 2012, 2017 और 2022 के चुनाव में लक्सर विधानसभा से मेरी सभी तैयारियां होने के बाबजूद पार्टी पार्टी ने मुझे टिकट नहीं दिया और लगातार मेरी उपेक्षा की गई। कांग्रेस का प्रदेश नेतृत्व लगातार मुझे नीचा दिखाता गया लेकिन मैं कांग्रेस के सच्चे सिपाही की तरह कार्य करता रहा। उन्होंने कहा कि मेरे पिता स्व. डीपी खारी ने हरीश रावत को साल 2009 के लोकसभा चुनाव में जीत दिलाई लेकिन कांग्रेस ने मेरे पिता की भी उपेक्षा की। कांग्रेस के प्रदेश नेतृत्व ने मेरे पिता का कद छोटा करने का प्रयास किया। ऐसे ही मेरे राजनैतिक करियर को छोटा करने का प्रयास किया जा रहा है।

प्रमोद खारी ने कहा कि कांग्रेस लगातार मुझे इसलिए अपमानित करती है क्याेंकि मैं किसी बड़े नेता की गुलामी और चापलूसी नहीं करता। उन्होंने कहाकि प्रदेश कांग्रेस कार्यालय में चापलूसों की भरमार है। प्रदेश के नए अध्यक्ष करण माहरा चापलूस और दलालों से घिरे हैं। कार्यकर्ताओं से बात करने को तैयार नहीं हैं। पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत ने पूरे उत्तराखंड में कांग्रेस को खत्म करने का कार्य किया। मैंने हरीश रावत के लिए 18 वर्षों से वफादारी निभाई, लेकिन वो मीठी गोली देने में माहिर हैं। उन्होंने कहाकि जब तक हरीश रावत कांग्रेस में हैं तब तक पार्टी का अस्तित्व नहीं रहेगा। उन्होंने कहा कि मैं हरिद्वार के गुर्जर समाज का प्रतिनिधित्व करता हूं। रानीपुर, ग्रामीण, लक्सर, खानपुर, कलियर, मंगलौर विधानसभा में युवा कार्यकर्ता कांग्रेस से इस्तीफा दे रहे हैं। मैं हरिद्वार से कांग्रेस मुक्त बनाने का कार्य करूंगा।

Check Also

Himachal-Pradesh-Bus-Accident

हिमाचल प्रदेश हादसा : कुल्लू में यात्री बस घाटी में गिरी, 7 लोगों की मौत और 10 घायल

हिमाचल प्रदेश हादसा: हिमाचल प्रदेश के कुल्लू में एक भयानक हादसा (कुल्लू बस हादसा) सामने आया है . यात्री बस के …