पूनम पांडे को मौत का नाटक करने के लिए किया गया मजबूर, थाने में दर्ज हुई शिकायत

2 फरवरी को एक्ट्रेस और मॉडल पूनम पांडे की मौत की खबर ने पूरी इंडस्ट्री को सदमे में डाल दिया। जैसे ही ये खबर सामने आई तो हंगामा मच गया. पूनम के मैनेजर ने एक इंस्टाग्राम पोस्ट में घोषणा की कि अभिनेत्री की मृत्यु सर्वाइकल कैंसर से हुई है। लेकिन जैसे-जैसे दिन बीतता गया, पूनम की मौत की खबर एक रहस्य बन गई। शाम को खबर आई कि पूनम, उनकी मैनेजर और पूरे परिवार के फोन बंद हैं. इसके साथ ही सभी के फोन बंद कर दिए गए और एक्ट्रेस के शव के बारे में कोई जानकारी नहीं दी गई, जिससे पूरे मामले में सस्पेंस पैदा हो गया.

उद्योग जगत नाराज था

3 फरवरी की सुबह, पूनम ने एक वीडियो साझा किया जिसमें उन्होंने कहा कि मैं जीवित हूं और सर्वाइकल कैंसर के बारे में जागरूकता फैलाने के लिए फर्जी मौत की खबर फैलाई। 2 फरवरी को जब फिल्म इंडस्ट्री और टीवी सेलेब्स पूनम को श्रद्धांजलि दे रहे थे तो एक्ट्रेस का नया वीडियो देखकर भड़क गए। सभी लोगों ने पूनम को आश्चर्यचकित कर दिया और उन पर गुस्सा करने लगे। सेलेब्स ने कहा कि यह सही नहीं है कि पब्लिसिटी स्टंट और पीआर के चलते पूनम ने मौत का नाटक रचा। जिंदगी बहुत कीमती है. और इसमें मौत का नाटक करना शर्मनाक कृत्य है.

पूनम पांडे के खिलाफ पुलिस में शिकायत दर्ज कराई गई थी

वकील अली काशिफ खान देशमुख ने अभिनेत्री पूनम पांडे के खिलाफ पुलिस में शिकायत दर्ज कराई है। इतना ही नहीं, एक्ट्रेस की मैनेजर निकिता शर्मा और एजेंसी हॉटरफ्लाई के खिलाफ आईपीसी की धारा 417, 420, 120बी, 34 के तहत एफआईआर दर्ज करने की मांग की गई है। सभी को सर्वाइकल कैंसर के नाम पर जनता को धोखा देने और देश को चूना लगाने का मामला बनाने को कहा गया है. पूनम के स्टंट को पब्लिसिटी स्टंट और धोखा घोषित करने की मांग उठने लगी है.

पूनम के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराई जाएगी

ऑल इंडिया सिने वर्कर्स एसोसिएशन ने पूनम पांडे के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराने की बात कही है. अधिकारियों ने कहा कि पूनम पांडे द्वारा किया गया फर्जी पीआर स्टंट बेहद गलत है. सर्वाइकल कैंसर के प्रति जागरूकता फैलाने की आड़ में उन्होंने जो आत्मप्रचार किया है, वह स्वीकार्य नहीं है। इस तरह की खबरों के बाद भारतीय फिल्म इंडस्ट्री के लोग मौत की खबर पर यकीन करने से कतराएंगे।