PMCH के कोविड वार्ड में नई व्यवस्था:250 मीटर की दूरी पर होगा संक्रमित परिवार, टीवी स्क्रीन पर बुलेटिन में जान पाएंगे सेहत का हाल

 

प्रतीकात्मक तस्वीर। - Dainik Bhaskar

प्रतीकात्मक तस्वीर।

  • कोविड वार्ड के बाहर संक्रमितों के परिजनों की सुविधा के लिए बनाया गया शेड
  • मेडिल बुलेटिन के साथ संक्रमिताें के परिजनों को लाइव देखने का मौका

PMCH में कोरोना संक्रमितों की सेहत से जुड़ा हर अपडेट अब परिजनों को आसानी से मिल जाएगी। कोरोना वार्ड के बाहर टीवी स्क्रीन पर परिजन पल पल की जानकारी से अवगत हो जाएंगे। इतना ही नहीं दिन में एक बार वह परिजनों को CCTV के जरिए लाइव भी देख सकेंगे। संक्रमितों से परिजनों की दूरी 250 मीटर ही होगी लेकिन संक्रमण की सुरक्षा के कारण से उन्हें मिलने की इजाजत नहीं होगी। वार्ड के बाहर संक्रमितों के परिजनों के लिए शेड बना दिया गया है जहां से वह अपनों का हाल जान सकेंगे।

प्रधान सचिव के निर्देश पर बनाई जा रही व्यवस्था

मंगलवार को स्वास्थ्य विभाग के प्रधान सचिव प्रत्यय अमृत पटना मेडिकल कॉलेज पहुंचे था जहां कोरोना को लेकर उन्होंने कई घंटे अधिकारियों के साथ मंथन किया। इस दौरान व्यवस्था को हाईटेक बनाकर संक्रमितों के परिजनों की सुविधा के लिए योजना भी बनाई गई थी। इस दौरान ही योजना बनी थी कि संक्रमितों के परिजनों को कैसे हर पल का अपडेट दिया जाए। इसके लिए एक हाईटेक कंट्रोल रूम में के साथ अन्य कई सुविधाओं को लेकर चर्चा हुई थी। प्रधान सचिव के साथ बैठक में यह निर्णय लिया गया है कि संक्रमितों के परिजनों को सेहत के बारे में मेडिकल बुलेटिन से हर अपडेट दिया जाएगा।

कंट्रोल रूम से होगी मॉनिटरिंग

पटना मेडिकल कॉलेज में DM के निर्देश एक हाईटेक कंट्रोल रूम बनाया गया है। इसके लिए डॉ. अरुण अजय को नोडल बनाया गया है। योजना बनाई गई है कि संक्रमितों के सेहत से जुड़ी हर जानकारी उनके परिजनों को दी जाएगी। इसके लिए कोविड वार्ड के बाहर एक बड़ी स्क्रीन लगाई जाएगी जिसमें कोविड वार्ड में भर्ती मरीजों का हेल्थ बुलेटिन चलाया जाएगा। इसमें मरीजों का ऑक्सीजन लेबर से लेकर शरीर के हर अंगों के काम करने की स्थिति के साथ वह सभी जानकारी दी जाएगी जो आम आदमी के लिए समझना आसान होता है।

दिन में एक बार कंट्रोल रूम में जाने का मौका

योजना बनाई जा रही है कि संक्रमितों के परिजनों को दिन में एक बार कंट्रोल रूम में ले जाकर वहां से मरीज को लाइव दिखाया जाए। पटना मेडिकल कॉलेज के प्रशासनिक अधिकारियों का कहना है कि इसके लिए कंट्रोल रूम को पूरी तरह से हाईटेक बनाया जा रहा है और वार्ड में CCTV कैमरों को यहां लगे एक बड़ी स्क्रीन से जोड़ा जाएगा। मॉनिटरिंग के लिए हर बेड के आसपास कैमरा है और संबंधित संक्रमित के परिजनों को दिन में एक बार कंट्रोल रूम में उनके मरीज को लाइव दिखाया जाएगा।

शेड में 40 बेड की व्यवस्था

कोविड वार्ड के बाहर संक्रमितों के परिजनों के लिए पहले से बनाए गए शेड को और बड़ा कर दिया गया है। यहां अब 40 बेड की व्यवस्था हो सकती है। यहां संक्रमितों के परिजन रहकर अपने परिजनों के बारे में हर अपडेट पा सकेंगे। पटना मेडिकल कॉलेज के कोविड वार्ड के नोडल डॉ अरुण अजय का कहना है कि संक्रमितों का हाल आसानी से उनके परिजनों को मिल जाएगा। मेडिकल बुलेटिन के माध्यम से संक्रमित से जुड़ी हर जानकारी उनके परिजनों से साझा। मेडिकल बुलेटिन में संक्रमित की सेहत का हर अपडेट होगा जिससे उनके परिजनों को यह पता होगा कि उनका मरीज किस हाल में है। संक्रमित की सेहत में कितना सुधार हो रहा है इसकी भी जानकारी बड़ी आसानी से मिल जाएगी।

 

खबरें और भी हैं…

Check Also

छपरा सदर अस्पताल से 19 पॉजिटिव बच्चे फरार:रिमांड होम के थे सभी बच्चे, आइसोलेशन वार्ड की खिड़की से भागे, अब तक कोई बरामद नहीं

  इसी अस्पताल की पहली मंजिल से भागे बच्चे। छपरा सदर अस्पताल के आइसोलेशन वार्ड …