प्रधानमंत्री मोदी बोले पुतिन से-‘यह युद्ध का समय नहीं’,अमेरिका ने किया स्वागत

jake sullivan_355

वाशिंगटन, 21 सितंबर (हि.स.)। अमेरिका ने शंघाई सहयोग संगठन के शिखर सम्मेलन के दौरान उज्बेकिस्तान के समरकंद में भारत के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन की मुलाकात में भारतीय रुख का समर्थन किया है। शिखर सम्मेलन से अलहदा हुई इस मुलाकात में दोनों देशों के शीर्ष नेताओं के बीच यूक्रेन युद्ध समेत कई अहम मुद्दों पर चर्चा हुई। इस पर बाइडन प्रशासन ने बयान जारी किया है। अमेरिका के राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार जेक सुलिवन ने मंगलवार को कहा कि पुतिन के साथ प्रधानमंत्री मोदी की बातचीत कि ‘यह यूक्रेन में युद्ध का समय नहीं है।’ प्रधानमंत्री मोदी का यह सैद्धांतिक बयान था। इसे वह सही मानते हैं। अमेरिका भारत के इस बयान का स्वागत करता है।

उल्लेखनीय है कि शिखर सम्मेलन से इतर प्रधानमंत्री मोदी ने रूसी राष्ट्रपति से कहा था कि आज का युग युद्ध का नहीं है। शांति को लेकर मैंने इस बारे में आपसे फोन पर बात की थी। भारत और रूस कई दशकों से एक-दूसरे के साथ रहे हैं। अमेरिका के राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार सुलिवन ने कहा कि मुझे लगता है कि प्रधानमंत्री मोदी ने जो कहा वह सही और न्यायपूर्ण है।

उन्होंने कहा कि कोई भी अपने पड़ोसी के क्षेत्र को बलपूर्वक नहीं जीत सकता। यदि रूस अपना रवैया बदल ले तो यूक्रेन में शांति सबसे तेज और निर्णायक रूप से आएगी। सुलिवन ने कहा कि यह वक्त रूस को स्पष्ट और अचूक संदेश भेजने का है। हम चाहते हैं कि दुनिया का हर देश ऐसा करे।

Check Also

30_09_2022-30_09_2022-united_nation_23109441_9141504

रूस यूक्रेन युद्ध: यूक्रेन में रूस के जनमत संग्रह पर मतदान करेगा यूएनएससी, अमेरिका ने कहा- ‘मास्को के कब्जे की कोई मान्यता नहीं’

न्यूयॉर्क : रूस औपचारिक रूप से यूक्रेन के चार क्षेत्रों पर कब्जा कर लेगा जहां उसने जनमत …