मेनोपॉज में अचानक बंद हो जाते हैं पीरियड्स, जानिए क्या सच है

मुंबई: उम्र के साथ महिलाओं के शरीर में बदलाव आता है। ये परिवर्तन शरीर में अलग-अलग तरीकों से होते हैं। 45 से 50 की उम्र के बीच महिलाओं को मेनोपॉज का अनुभव होता है। महिलाओं में मेनोपॉज एक ऐसी स्थिति है जिसमें मासिक धर्म रुक जाता है और शरीर में कई तरह के हार्मोनल बदलाव होते हैं। 

मेनोपॉज को लेकर महिलाएं अक्सर कंफ्यूज रहती हैं। इसी तरह महिलाओं के मन में मेनोपॉज को लेकर भी कई भ्रांतियां हैं। लेकिन महिलाओं को इस बारे में सच्चाई जानने की जरूरत है। आइए जानते हैं मेनोपॉज के दौरान महिलाओं के मन में पैदा होने वाली भ्रांतियां।

रजोनिवृत्ति का इलाज किया जा सकता है

शरीर में होने वाले हार्मोनल बदलाव के कारण हर महिला को मेनोपॉज की प्रक्रिया से गुजरना पड़ता है। मूल रूप से यह कोई बीमारी नहीं है जिसका इलाज किया जा सकता है। तो यह एक गलत धारणा है।

 

मेनोपॉज के बाद खत्म हो जाती है महिलाओं की सेक्स लाइफ

कई महिलाओं को यह समझ होती है कि मेनोपॉज के बाद सेक्स लाइफ खत्म हो जाती है। लेकिन ऐसी कोई बात नहीं है। मेनोपॉज के बाद कुछ बातों का ध्यान रखकर आप इस समस्या से बच सकती हैं। इसके लिए आपको अपने डॉक्टर से सलाह लेनी चाहिए।

मेनोपॉज में पीरियड्स अचानक बंद हो जाते हैं

महिलाओं को अक्सर यह भ्रम होता है कि मेनोपॉज के दौरान मासिक धर्म पूरी तरह से बंद हो जाता है। लेकिन इसमें कोई सच्चाई नहीं है, यह महज एक भ्रम है। मेनोपॉज मूल रूप से एक ऐसी प्रक्रिया है जिसमें मासिक धर्म धीरे-धीरे बंद हो जाता है।

Check Also

हस्तरेखा विज्ञान: उंगलियों वाली लड़कियां जो पार्टनर के लिए बहुत लकी होती हैं, जानिए!

मुंबई: हर व्यक्ति के जीवन में शादी का बहुत महत्व होता है. शादी का फैसला करना हर …