सीने के निचले हिस्से में दर्द: अगर छाती के निचले हिस्से में है दर्द, तो रहें सावधान, जानें कारण और बचाव

सीने में दर्द के कई कारण हो सकते हैं। अक्सर लोग इसे हार्ट डिजीज या हार्ट अटैक समझने लगते हैं। सीने के निचले हिस्से में दर्द को सामान्य नहीं माना जाता है। इसे नजरअंदाज नहीं करना चाहिए। कई लोगों में सीने के निचले हिस्से में दर्द हृदय संबंधी बीमारियों के कारण होता है। इसके अलावा, छाती के निचले हिस्से में दर्द आपके फेफड़ों की समस्या, मांसपेशियों की समस्या, पसलियों या तंत्रिका संबंधी समस्याओं के कारण भी हो सकता है। कई बार लोगों के पेट में गैस की वजह से भी सीने में दर्द होता है। कुछ लोगों में छाती के निचले हिस्से और बायीं पसली में दर्द की समस्या होती है। छाती के इस भाग को बायां ऊपरी चतुर्थांश भी कहा जाता है। अगर आपको सीने में या सीने के निचले हिस्से में दर्द है तो आपको बिना डॉक्टर की सलाह के कोई भी दवा नहीं लेनी चाहिए।

छाती के निचले हिस्से में दर्द क्यों होता है?

सीने में दर्द के दो कारण हो सकते हैं। हृदय रोग विशेषज्ञों के अनुसार छाती के निचले हिस्से में दर्द मुख्य रूप से दो कारणों से हो सकता है। इसमें पहला कारण गैस या एसिडिटी होता है, जबकि दूसरा कारण दिल से जुड़ी कोई बीमारी या समस्या हो सकती है। ये कारण हृदय की मांसपेशियों में जलन, रक्त प्रवाह में रुकावट और दिल का दौरा पड़ने की स्थिति में छाती के निचले हिस्से में दर्द के कारण हो सकते हैं।

हृदय रोग के कारण

छाती के निचले हिस्से में दर्द हृदय रोग का पहला लक्षण माना जाता है। हार्ट अटैक और हार्ट फेल्योर की समस्या के अलावा दिल से जुड़ी कई अन्य स्थितियां भी सीने में दर्द का कारण बन सकती हैं। कोरोनरी धमनी रोग, एनजाइना आदि भी सीने में दर्द का कारण बनते हैं। यह दर्द जबड़े और कंधे तक भी फैल सकता है। मांसपेशियों में सूजन या मायोकार्डिटिस की समस्या भी सीने में तेज दर्द का कारण बन सकती है। साथ ही सीने में दर्द दिल के आसपास की थैली में सूजन या संक्रमण के कारण भी हो सकता है।

फेफड़ों की समस्या

फेफड़ों में सूजन और संक्रमण के कारण भी छाती के निचले हिस्से में दर्द हो सकता है। कुछ फेफड़ों की स्थिति जैसे निमोनिया, फुफ्फुसीय अन्त: शल्यता, छाती की चोट या न्यूमोथोरैक्स, फुफ्फुसीय धमनियों में रक्तचाप में वृद्धि, अस्थमा, सीओपीडी, क्रोनिक ब्रोंकाइटिस, आदि भी सीने में दर्द का कारण बन सकते हैं। निमोनिया के कारण आपके सीने के निचले हिस्से में दर्द मध्यम और गंभीर दोनों हो सकता है।

हड्डी, मांसपेशियों और तंत्रिका तंत्र की समस्याएं

सीने के निचले हिस्से में दर्द की समस्या हड्डियों और मांसपेशियों से भी जुड़ी हो सकती है। हड्डी में चोट, पसली में दर्द, मांसपेशियों में खिंचाव या सूजन, वायरल संक्रमण आदि से भी छाती या सीने के निचले हिस्से में दर्द हो सकता है। इन समस्याओं के कारण होने वाला दर्द कुछ समय तक रहता है और अपने आप ठीक हो जाता है।

मानसिक समस्याएं

पैनिक अटैक, चिंता और तनाव के कारण भी सीने में तेज दर्द हो सकता है। जिन लोगों को मानसिक समस्याओं के कारण सीने में दर्द होता है, उन्हें सांस की तकलीफ, अनियमित धड़कन, झुनझुनी, चक्कर आना आदि का अनुभव हो सकता है।

निचले सीने के दर्द से राहत

छाती या सीने के निचले हिस्से में दर्द से बचने के लिए आहार और जीवनशैली में बदलाव बहुत जरूरी है। कुछ लोगों में, स्तन या स्तन दर्द आहार संबंधी गड़बड़ी और जीवनशैली से संबंधित कारणों से हो सकता है। खानपान और जीवनशैली में सुधार से हृदय रोग का खतरा भी कम होता है। इस स्थिति से बचने के लिए आहार में पर्याप्त मात्रा में फाइबर शामिल करें और धूम्रपान से बचें। नियमित व्यायाम या योग करने से हृदय संबंधी बीमारियों का खतरा भी कम होता है और सीने में दर्द की समस्या से भी बचा जाता है।

Check Also

पूरे चेहरे से दाग-धब्बे और पिगमेंटेशन को पांच दिनों में दूर करने के लिए इस घरेलू उपाय को आजमाएं

कई लोगों को चेहरे के दाग-धब्बों की समस्या होती है। यह त्वचा के कुछ क्षेत्रों में …