एफआईएच हॉकी स्टार्स अवार्ड्स के लिए नामित होने पर सविता ने कहा- यह टीम वर्क का परिणाम

बेंगलुरु, 20 नवंबर (हि.स.)। भारतीय महिला हॉकी टीम की गोलकीपर सविता ने एफआईएच हॉकी स्टार्स अवार्ड्स में गोलकीपर ऑफ द ईयर श्रेणी में लगातार तीसरी बार नामित होने पर कहा कि उन्होंने कभी नहीं सोचा था कि वह लगातार दो बार यह पुरस्कार जीतेंगी और अब फिर से तीसरी बार नामित होंगी।

सविता, जिन्होंने 2021 और 2022 में एफआईएच पुरस्कार जीती थीं, ने कहा कि उनकी उपलब्धि टीम वर्क का परिणाम है।

सविता ने एफआईएच महिला गोलकीपर ऑफ द ईयर अवार्ड 2023 के लिए नामित होने पर हॉकी इंडिया से बातचीत में कहा,“मैंने कभी नहीं सोचा था कि मैं लगातार दो वर्षों तक यह पुरस्कार जीतूंगी, और फिर से नामित होंऊंगी। मैं वास्तव में बहुत अच्छा महसूस कर रही हूं और यह मेरे, मेरे परिवार और मेरे साथियों के लिए भी गर्व का क्षण है। जब मैंने खेलना शुरू किया, तो मैंने कभी नहीं सोचा था कि मैं इतना आगे तक आऊंगी और यह सब मेरे परिवार और मेरे साथियों के समर्थन के कारण है।”

उन्होंने कहा, “टीम खेल में, कोई भी उपलब्धि व्यक्तिगत प्रयासों पर आधारित नहीं होती बल्कि टीम वर्क का परिणाम होती है। आपकी कड़ी मेहनत के लिए पहचाना जाना बहुत अच्छा है और यह पूरी टीम को प्रेरित करता है।”

सविता ने हाल के वर्षों में भारत को कई महत्वपूर्ण जीत दिलाई हैं, जिसमें स्पेन में उद्घाटन एफआईएच हॉकी महिला नेशंस कप 2022 में खिताबी जीत भी शामिल है, जिससे भारत को एफआईएच प्रो लीग 2023-24 में पदोन्नति हासिल करने में मदद मिली।

इसके बाद उन्होंने एशियाई खेलों हांग्जो 2022 में कांस्य पदक जीतने के लिए टीम का नेतृत्व किया और इसके बाद हाल ही में आयोजित झारखंड महिला एशियाई चैंपियंस ट्रॉफी रांची 2023 में खिताबी जीत हासिल की। उनकी कप्तानी में, भारत ने 2368.83 अंकों के साथ अपनी सर्वश्रेष्ठ विश्व रैंकिंग (नंबर 6) भी हासिल की।

सविता ने कहा, “यह हमारे लिए एक अद्भुत सीज़न रहा है। मुझे इस बात पर गर्व है कि हमने अपने रास्ते में आने वाली बाधाओं को कैसे पार किया। हम प्रत्येक खेल के साथ बेहतर होते गए हैं। यहां तक कि युवा खिलाड़ियों ने भी बहुत दृढ़ता दिखाई है; उन्होंने कड़ी मेहनत की है और अपना सब कुछ दे दिया है।”

आगामी एफआईएच हॉकी ओलंपिक क्वालीफायर पर ध्यान केंद्रित करने के साथ, भारतीय महिलाएं पेरिस 2024 ओलंपिक के लिए अपनी योग्यता सुरक्षित करने के लिए टूर्नामेंट में शीर्ष तीन में जगह बनाने का लक्ष्य रखेंगी। ओलंपिक क्वालीफायर 13 से 19 जनवरी तक रांची में होना है।

भारत को पूल बी में न्यूजीलैंड, संयुक्त राज्य अमेरिका और इटली के साथ रखा गया है। पूल ए में जर्मनी, जापान, चिली और चेक गणराज्य शामिल हैं। प्रत्येक समूह से शीर्ष दो टीमें सेमीफाइनल में पहुंचेंगी और शीर्ष तीन टीमें पेरिस ओलंपिक के लिए अपनी योग्यता सुनिश्चित करेंगी।