Omicron symptom: ओमिक्रॉन की निशानी हैं त्वचा पर दिखने वाले ये लक्षण! ना करें नजरअंदाज, तुरंत दें ध्यान

Omicron symptoms: कोविड-19 के खतरनाक वैरिएंट ओमिक्रॉन (Omicron variant) के देश में 5000 से भी ज्यादा मामले सामने आ चुके हैं. ओमिक्रॉन के प्रसार को देखते हुए इसे डेल्टा वैरिएंट (Delta variant) से घातक माना जा रहा है. एक्सपर्ट का मानना है कि ओमिक्रॉन में डेल्टा की खिलाफ लक्षण कुछ हद तक कम तो पाए जाते हैं, लेकिन यह काफी तेजी से फैलता है. रिसर्च से पता चलता है कि अन्य वैरिएंट की तुलना में ओमिक्रॉन हल्का है और वहीं ब्रिटेन की पहली आधिकारिक रिपोर्ट के मुताबिक भी इस वैरिएंट से अस्पताल में भर्ती होने का जोखिम डेल्टा वैरिएंट की तुलना में 50 से 70 प्रतिशत कम है.

विशेषज्ञों के मुताबिक, ओमिक्रॉन के लक्षण भले ही हल्के हों लेकिन इसे सर्दी-जुकाम की तरह हल्के में नहीं लेना है, बल्कि इसके लक्षण महसूस होने पर तुरंत डॉक्टर से संपर्क करना है. थकान (Fatigue), जोड़ों का दर्द (Joint pain), सर्दी (Cold) सिरदर्द (Headaches) ओमिक्रॉन के 4 शुरुआती और सामान्य लक्षण हैं. अन्य स्टडीज के मुताबिक, नाक बहना (Runny nose), छींक आना (Sneezing) और गले में खराश या गले में चुभन (Sore throat), भूख ना लगना (loss of appetite), सूखी खांसी (Dry cough) भी ओमिक्रॉन के लक्षणों की श्रेणी में आते हैं. हाल ही में ओमिक्रॉन के मरीजों ने कुछ ऐसे लक्षणों के बारे में बताया है जो त्वचा/स्किन पर नजर आते हैं. तो आइए जानते हैं कौन से हैं वो लक्षण ?

त्वचा पर दिख रहे हैं ओमिक्रॉन के ये लक्षण

(Image Credit : Pixabay)

जैसे-जैसे ओमिक्रॉन के मामले सामने आ रहे हैं, वैसे-वैसे इसके अन्य लक्षण भी सामने आ रहे हैं. हाल ही में ओमिक्रॉन के मरीजों ने ठंड लगने जैसे लक्षणों की सूचना दी तो कुछ लोगों ने त्वचा संबंधित समस्या की सूचना दी है. COVID-19 संक्रमित मरीजों द्वारा बताए गए लक्षणों का विश्लेषण करने वाली स्टडी ऐप ZOE Covid पर मरीजों ने बताया कि उन्हें त्वचा पर रैशेज का अनुभव होता है.

विश्लेषण करने के बाद पता चलता है कि अधिकतर मरीजों ने तीन अलग-अलग प्रकार की स्किन प्रॉब्लम होने के बारे में बताया है. जो निम्न हैं.

हीव्स (Hives)

यह उभरे हुए निशानों के रूप में दिखाई दे सकती है और इसमें बहुत खुजली होती है. इसमें आमतौर पर त्वचा पर उभरे हुए धब्बे और लाल धब्बे दिखाई देते हैं और ये शरीर पर कहीं भी हो सकते हैं. इसमें खुजली हथेलियों या तलवों से शुरू हो सकती है. यह खुजली या निशान आमतौर पर कुछ मिनट से लेकर कुछ दिनों तक भी रह सकते हैं. यदि आपको भी ऐसे लक्षण दिखते हैं तो संदेह दूर करने के लिए कोविड टेस्ट करा लें.

नुकीले दाने (Prickly heat)

इसे हीट रैश (Heat rash) के रूप में भी जाना जाता है, जिसमें शरीर में छोटे उभरे हुए धब्बे हो जाते हैं जो चुभने वाले होते हैं. यह धीरे-धीरे पूरे शरीर पर फैल जाते हैं और उनमें सूजन भी आ जाती है. इसके बाद इनमें खुजली होने लगती है. यह शरीर के किसी भी हिस्से में हो सकता है. कोहनी, घुटनों और हाथों और पैरों की पीठ पर ऐसे कांटेदार धब्बे होना आम बात है.

लंदन में एक एक्सपर्ट ने बताया था कि ओमिक्रॉन वाले बच्चों में चकत्ते देखे गए हैं, लेकिन अब यह बड़े लोगों में भी देखे जा सकते हैं. डॉ. डेविड लॉयड (Dr David Lloyd) के मुताबिक, 15 प्रतिशत युवाओं में ओमिक्रॉन के सकारात्मक परीक्षण के बाद ऐसे निशान देखे गए हैं.

बिवाई / चिलब्लेन्स (Chilblains)

चिलब्लेन्स शरीर पर छोटे, खुजलीदार, लाल धब्बे होते हैं, वो ऐसे दिखते हैं जैसे ठंड में रहने के बाद दिखाई देते हैं. ये आमतौर पर पैर और पैर की उंगलियों को प्रभावित करते हैं, लेकिन यह चेहरे पर भी हो सकते हैं. इससे त्वचा में खुजली या जलन (Itching or burning) हो सकती है और प्रभावित क्षेत्र में लाल रंग के निशान या सूजन वाले धब्बे दिख सकते हैं.

Check Also

कोरोना से बचना है तो न करें इन चीजों का सेवन, कमजोर हो जाएगी आपकी रोग प्रतिरोधक क्षमता

कोरोना काल में सबसे ज्यादा महत्व रोग प्रतिरोधक क्षमता को दिया गया है। जब से कोरोना …