ओडिशा में ओमिक्रोन से पहली मौत

भुवनेश्वर :  ओडिशा के बोलांगीर जिले में ओमिक्रोन से एक महिला की मौत हो गई है। इसकी पहचान बलांगीर जिले के अगलपुर प्रखंड की 45 वर्षीय महिला के रूप में हुई है। महिला को दौरा पड़ने के बाद 20 दिसंबर, 2021 को बलांगीर के भीम भोई मेडिकल कालेज एंड हास्पिटल में इलाज के लिए भर्ती कराया गया था। दो दिनों तक अस्पताल में इलाज के बाद उसे संबलपुर के बुर्ला में वीर सुरेंद्र साय इंस्टीट्यूट आफ मेडिकल साइंसेज एंड रिसर्च (भीमसार) में रेफर कर दिया गया। बलांगीर के मुख्य जिला चिकित्सा अधिकारी (सीडीएमओ) डा स्नेहलता साहू ने उक्त जानकारी दी है। भीमसार में महिला का स्वाब नमूना 22 दिसंबर, 2021 को लेकर जांच के लिए भेजा गया। रिपोर्ट पाजिटिव आई। इसके बाद उसके नमूने का जीनोम टेस्ट के लिए भेजा गया। टेस्ट के बाद ओमिक्रोन वैरिएंट पहचान होने की बात डा. साहू ने कही है। सीडीएमओ ने कहा कि एक स्वास्थ्य टीम महिला के घर भेजकर परिवार के सदस्यों का स्वाब नमूना लिया गया है।

 

ओडिशा में दैनिक कोरोना संक्रमण 10 हजार के पार पहुंच गया है। सीडीएमओ ने कहा कि महिला के शरीर में कोई लक्षण नहीं था और वह स्ट्रोक के इलाज के लिए आई थी। महिला की 27 दिसंबर को वीमसार में इलाज के दौरान मौत हो गई। अभी यह पूरी तरह से स्पष्ट नहीं हुआ है कि महिला की मौत दिल का दौरा पड़ने या ओमिक्रोन संक्रमण से हुई है। गौरतलब है कि स्वास्थ्य मंत्रालय में केंद्रीय संयुक्त सचिव लव अग्रवाल ने कहा था कि 31 दिसंबर को राजस्थान के उदयपुर के एक 73 वर्षीय मरीज की मौत की मौत ओमिक्रोन से हुई थी। ओडिशा में गुरुवार को पांच महीनों में कोविड-19 मामलों में सबसे अधिक एकल दिवसीय मामला सामने आया है। इसमें 0-18 वर्ष के 258 बच्चों सहित 1,897 व्यक्तियों को संक्रमित पाया गया है। राज्य के स्वास्थ्य अधिकारियों ने संकेत दिया है कि आने वाले दिनों में संक्रमण में इजाफा होगा। ऐसे में लोगों को सावधानी बरतने की जरूरत है।

Check Also

भाजपा ने जारी की स्टार प्रचारकों की सूची, 30 स्टार प्रचारक करेंगे उत्तराखंड विधानसभा चुनाव में प्रचार

देहरादून, 29 जनवरी (आईएएनएस) भाजपा ने विधानसभा चुनाव के लिए अपने स्टार प्रचारकों की सूची जारी …