Ollie Robinson निलंबन मामले में Britain के PMO का दखल, प्रवक्ता बोले- ‘ECB ने सजा देने में हद पार की’

नई दिल्ली: लॉर्ड्स क्रिकेट ग्राउंड में न्यूजीलैंड (New Zealand) के खिलाफ टेस्ट डेब्यू करने वाले इंग्लैंड के तेज गेंदबाज ओली रॉबिन्सन (Ollie Robinson) को सजा मिली है. साल 2012-13 में किए गए नस्लीय ट्वीट की जांच लंबित रहने तक इंटरनेशनल क्रिकेट से निलंबित कर दिया गया है.

ब्रिटिश PMO का दखल

अब इस मामले में ब्रिटिश प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन (Boris Johnson) के ऑफिस ने दखल दिया है. पीएम के प्रवक्ता ओलिवर डोडेन (Oliver Dowden) ने ट्वीट करते हुए लिखा, ‘ओली रोबिनसन के ट्वीट आपत्तिजनक और गलत थे, इसके साथ ही ये दशकों पुरानी बात है और उन्होंने किशोरावस्था में लिखे थे. वो किशोर अब युवा हो चुका है और सही कदम उठाते हुए उसने माफी भी मांग ली है. ईसीबी ने उसे सस्पेंड करते करके हद पार कर दी और इस मामले पर फिर से विचार करना चाहिए.

 

इन ट्वीट्स के बाद मचा बवाल 

ओली रॉबिन्सन (Ollie Robinson) ने 18 और 19 साल की उम्र में कई ट्वीट किए थे जिनको लेकर उन्हें अब दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है. ये ट्वीट नस्लवाद और लिंगभेद से जुड़े थे. मैच के पहले दिन इन ट्वीट को लेकर सोशल मीडिया पर चर्चा होती रही, जिसके बाद रॉबिन्सन ने माफी मांगी थी. ईसीबी ने ससेक्स के इस गेंदबाज के बारे में कहा, ‘रॉबिन्सन तुंरत ही इंग्लैंड की टीम को छोड़कर अपनी काउंटी में वापसी करेंगे.’
Oliie tweets

लॉर्ड्स टेस्ट में किया था डेब्यू 

ओली रॉबिन्सन (Ollie Robinson) ने लॉर्ड्स में खेले गए सीरीज के पहले मैच में टेस्ट क्रिकेट में डेब्यू किया था. उन्होंने न्यूजीलैंड के खिलाफ इस मुकाबले में सात विकेट लिए और इंग्लैंड की पहली पारी में 42 रन की शानदार पारी खेली. जिस तरह से इस ऑलराउंडर ने अपने डेब्यू मैच में कमाल दिखाया उस हिसाब से ऐसा माना जा रहा था कि वो आने वाले समय में एक बेहतरीन ऑलराउंडर बन सकते हैं. लेकिन इससे पहले ही उनके करियर को ग्रहण लगता हुआ नजर आ रहा है.

 

 

 

Check Also

6 साल की नन्हीं क्रिकेटर का बड़ा टैलेंट:धोनी-कोहली को फेवरेट बताने वाली महक की बैटिंग के दिग्गज भी दीवाने, मिताली राज बोलीं- कोई भी जरूरत हो मैसेज करना

केरल के कोझिकोड की रहने वाली महक फातिमा को बैटिंग करते देख बड़े-बड़े खिलाड़ी हक्के-बक्के …