‘अग्निपथ योजना’ को लेकर एनएसए डोभाल की बड़ी बात

राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार (NSA) अजीत डोभाल ने अग्निपथ भर्ती योजना और अन्य आंतरिक सुरक्षा मुद्दों पर एक समाचार साक्षात्कार दिया है। जिसमें उन्होंने कहा कि हालात के मुताबिक बदलाव की जरूरत है. अग्निपथ की स्वयं कोई योजना नहीं है। भारत के आसपास की स्थिति बदल रही है और अब चुनौतियां भी लगातार बदल रही हैं। हम कल जो कर रहे थे वह भविष्य में नहीं होना चाहिए। जब पीएम नरेंद्र मोदी सत्ता में आए तो उनकी प्राथमिकता थी कि हम कैसे सुरक्षित रहें। सेना को भी समय के साथ बदलने की जरूरत है।

उन्होंने कहा, “पीएम मोदी की प्राथमिकता देश की सुरक्षा है और हमने उस पर ध्यान केंद्रित किया है।” हमें भविष्य के लिए भी तैयारी करनी चाहिए। कई वर्षों से सुधार की बात चल रही है। अग्निपथ परियोजना देश के लिए महत्वपूर्ण है।

 

 

 

एनएसए ने कहा कि रेजिमेंट में कोई बदलाव नहीं किया जाएगा। सैन्य चुनौतियां लगातार बदल रही हैं। हाल के दिनों में युद्ध के तरीके बदल गए हैं। भारतीय सेना की औसत आयु सबसे अधिक है। हमें युवा और फिट लोगों की जरूरत है। परिस्थिति के अनुसार बदलाव की अब बहुत जरूरत है। राजनीतिक इच्छाशक्ति की कमी के कारण ये सुधार नहीं हो सके। अब युद्ध की तकनीक बदल रही है। पहले गांव से आने वाले और गांव जाने वाले सिपाही। पहले इसे पेंशन में रखा जाता था, लेकिन अब यह मुश्किल है।

Check Also

कच्छ दवा कारोबार का हब नहीं बन रहा है, है ना? रैपर के पास से एक बार फिर लाखों रुपये का नशीला पदार्थ बरामद

कच्छ : एक समय में पंजाब को ड्रग्स सहित ड्रग्स की तस्करी के लिए पूरे देश …