अब मिलेगी महंगाई से राहत, सरकार बेचेगी सिर्फ इतने रुपये में ‘भारत चावल’, जानिए

आम जनता को महंगाई से राहत दिलाने के लिए सरकार की ओर से कई प्रयास किए जा रहे हैं. अब सरकार की ओर से ‘भारत चावल’ लॉन्च किया गया है और इसे आम लोगों को 29 रुपये प्रति किलो के हिसाब से बेचा जाएगा. खुदरा बाजार में इसकी बिक्री अगले सप्ताह से शुरू हो जायेगी. साथ ही व्यापारियों को चावल भंडारण करने का निर्देश दिया गया है. सरकार ने कीमतों पर नियंत्रण के प्रयासों के तहत ये कदम उठाए हैं

चावल की कीमत में इतनी बढ़ोतरी

इस बीच, केंद्रीय खाद्य सचिव संजीव चोपड़ा ने कहा कि विभिन्न प्रकार के निर्यात पर प्रतिबंध के बावजूद, पिछले वर्ष चावल की खुदरा और थोक कीमतों में लगभग 15 प्रतिशत की वृद्धि हुई है। उन्होंने कहा कि कीमतों को नियंत्रित करने के लिए, सरकार ने दो सहकारी समितियों NAFED और NCCF के साथ मिलकर केंद्रीय भंडारण से खुदरा बाजार को राहत देकर भारतीय चावल को 29 रुपये प्रति किलोग्राम पर बेचने का फैसला किया है। ई-कॉमर्स भी बेचेगा ‘भारत चावल’!

 कोई ‘भारत चावल’ कहां से खरीद सकता है?

जानकारी के मुताबिक, भारत चावल की बिक्री नेफेड, एनसीसीएफ और केंद्रीय भंडार के रिटेल आउटलेट और मोबाइल वैन के जरिए की जाएगी. भविष्य में यह रिटेल चेन और ई-कॉमर्स प्लेटफॉर्म पर उपलब्ध होगा। सरकार इन्हें मोबाइल वैन के जरिए भी बेचेगी.

‘भारत चावल’ पांच और 10 किलो के पैकेट में बेचा जाएगा

अगले सप्ताह से ‘भारत चावल’ के पांच किलो और 10 किलो के पैकेट बेचे जाएंगे. पहले चरण में सरकार ने खुदरा बाजार में बिक्री के लिए पांच लाख टन चावल आवंटित किया है. सरकार पहले से ही ‘भारत आटा’ 27.50 रुपये प्रति किलो और ‘भारत दाल’ यानी चना 60 रुपये प्रति किलो बेच रही है. सरकार की चावल निर्यात पर लगे प्रतिबंध को जल्द हटाने की कोई योजना नहीं है। कीमत कम होने तक रोक जारी रहेगी.