अब TVS इलेक्ट्रिक स्कूटर से आपके घर खाना डिलीवर करेंगे Swiggy के एग्जिक्यूटिव

नई दिल्लीः TVS मोटर कंपनी ने स्विगी से साझेदारी का ऐलान किया है जिसमें इलेक्ट्रिक यातायात को बढ़ावा देने पर काम किया जाएगा, इसमें अपनी डिलेवरी फ्लीट में इलेक्ट्रिक वाहन शामिल करने के स्विगी के फैसले को प्रात्साहन मिलेगा. दोनों कंपनियों द्वारा साइन किए एमओयू के अंतर्गत TVS मोटर और स्विगी TVS की ईवी को बेहतर बनाने का काम करेंगे जो खाना डिलीवर करने और जरूरत के अन्य सामान की घर पहुंच सेवा देते समय TVS ईवी के इस्तेमाल से संभव होगा.

इलेक्ट्रिक वाहनों को अपनाने में पायलेट का बड़ा रोल

दोनों कंपनियां स्विगी डिलीवरी पार्टनर्स के लिए किफायती और बेहतर यातायात मुहैया कराने में जुटी हुई हैं. इसमें कस्टमाइज पैकेज पर काम करना शामिल है जैसे कि जरूरत के हिसाब का प्रोडक्ट, फ्लैक्सिबल फायनेंसिंग विकल्प और कनेक्टेड सर्विस पर काम करना. बता दें कि इलेक्ट्रिक वाहनों को अपनाने में पायलेट का बड़ा रोल होगा जो खाना या अन्य सामान ग्राहकों तक पहुंचाते हैं. इस वित्त के अंत तक 33 बड़े शहरों में स्विगी डिलीवरी TVS आईक्यूब इलेक्ट्रिक स्कूटर के साथ होगी, इन शहरों में दिल्ली, बेंगलुरु, चेन्नई, पुणे, कोच्चि और कोयंबटूर शामिल हैं.

ग्राहकों में भी ईवी खरीदने की भावना बढ़ेगी

TVS मोटर कंपनी की फ्यूचर मोबिलिटी के सीनियर वाइस प्रेसिडेंट, मनु सक्सेना ने कहा, “ग्राहकों को ग्रीन और कनेक्टेड वाहन डिलीवर करने के लिए TVS काफी आगे हैं. स्विगी के साथ हमारी साझेदारी फूड डिलीवरी और लास्ट माइल डिलीवरी सर्विस में इलेक्ट्रिक यातायात के इस्तेमाल को मजबूत करेगी, इससे ग्राहकों में भी ईवी खरीदने की भावना बढ़ेगी. इलेक्ट्रिक कमर्शियल मोबिलिटी सेगमेंट में भी हमारी एंट्री यहीं से हुई है.”

 

2025 तक 8 लाख किमी रोजाना इलेक्ट्रिक वाहनों से

स्विगी के वाइस प्रसिडेंट ऑपरेशंस मिहिर राजेश शाह ने कहा, “बड़े स्तर पर इलेक्ट्रिक वाहनों को अपनाने के लिए स्विगी रास्ता तैयार कर रहा है. 2025 तक 8 लाख किमी रोजाना इलेक्ट्रिक वाहनों से तय करने के लक्ष्य को लेकर कंपनी प्रतिबद्ध है. हमारा मानना है कि TVS ग्रीन मोबिलिटी के भरोसेमंद प्रोडक्टर ऑफर करते हैं जो हमारे डिलीवरी पार्टनर्स को भी ज्यादा कमाई का मौका देंगे. TVS ईवी के साथ ये पायलेट हमें डिलेवरी फ्लीट की जरूरतों के बारे में जानकारी देगा और इस तरह ग्रीन और बेहतर यातायात की ओर बढ़ा जा सकता है.”

Check Also

गिरा हुआ सोना मिले तो उठाएं या नहीं? जानिए क्या कहता है शगुन शास्त्र

नई दिल्ली: सड़क चलते कई बार पैसे या सोने-चांदी मिल जाते हैं. कुछ लोग इन्हें उठा …