अब बालू की नहीं लग पाएगी बोली:पटना में 31 जगहों पर 13 क्लस्टर बनाकर स्टॉक के साथ दाम किया गया फाइनल, तय रेट पर ही करनी होगी बिक्री

 

सांकेतिक तस्वीर। - Dainik Bhaskar

सांकेतिक तस्वीर।

पटना में बालू को लेकर 31 जगहों पर 13 कलस्टर बनाए गए हैं। बालू का रेट और बिक्री का स्थल निर्धारित है। बिक्री इसी अनुसार होनी है। प्रशासन ने बालू की मनमानी पर सख्ती के लिए आदेश जारी कर दिया है। पटना में 22 अनुज्ञप्ति स्थलों पर भंडारित बालू की मात्रा 52,56,600 घन फीट व 9 बालू घाटों के नदी तट से 300 मीटर के अंदर भंडारित बालू की मात्रा 77,00,270 यानी कुल 31 स्थलों पर भंडारित बालू की कुल मात्रा 1,29,56,870 घन फीट है, जिसका क्लस्टर बनाते हुए विक्रय स्थल निर्धारित कर दिया गया है।

यह भी बनाया गया नियम

पटना जिला अंतर्गत सेकेंडरी लोडिंग स्थलों पर भंडारित जब्त दावा रहित बालू जिले में कार्यरत लाइसेंस धारियों के माध्यम से ही बिक्री की जाएगी, जिसके लिए भंडारित बालू स्थलों का क्लस्टर बनाते हुए चयन किया गया है। भंडारण स्थलों पर जब्त बालू का विक्रय मूल्य जिला स्तरीय गठित समिति द्वारा 4027 रुपए प्रति 100 घन फीट निर्धारित किया गया है तथा प्रति 100 घन फीट बालू पर लोडिंग चार्ज 300 रुपए और 5% अनुज्ञप्ति धारियों का कमीशन के रूप में प्रति 100 घन फीट बालू पर 201 रुपए देय होगा। यानी कुल प्रति 100 घन फीट बालू का मूल्य 4528 रुपए देना होगा। साथ ही विक्रय स्थल से उपभोक्ता को दूरी के अनुसार, 35 रुपए प्रति किलोमीटर की दर से भुगतान करना होगा।

बालू को लेकर अब यह हुई सख्ती

  • बालू के लाइसेंसी ठेकेदार को खनन विभाग परिवहन विभाग एवं पर्यावरण विभाग अद्यतन सभी संगत नियमों एवं निर्देशों का पालन करना होगा।
  • लाइसेंसी ठेकेदार को बालू भंडारण स्थल, मुख्य निकासी मार्ग, e-challan केंद्र पर सीसीटीवी कैमरा लगाना होगा।
  • लाइसेंसी को बालू के लिए पंजी संधारित करना होगा।
  • बिहार खनिज समानुदान अवैध खनन परिवहन एवं भंडारण निवारण नियमावली 2019 यथा संशोधित 2021 के शर्त एवं बंधेजों का पालन करना होगा।
  • अनुज्ञप्ति धारियों को केवल भंडारण स्थलों पर जब बालू की ही बिक्री करनी है। किसी दूसरे स्थान से बालू का अवैध उत्खनन करने की स्थिति में संबंधित अनुज्ञप्ति धारी ठेकेदार पर विधि सम्मत दंडात्मक कार्रवाई की जाएगी।
  • लाइसेंसी किसी भी परिस्थिति में बिचौलियों को भालू की बिक्री नहीं करेंगे। नियम का उल्लंघन किए जाने पर विधि सम्मत कार्रवाई करते हुए बालू को जब्त करने की कार्रवाई की जाएगी।
  • लाइसेंसी यह सुनिश्चित करेंगे कि शहर अंतर्गत बालू की उपलब्धता तथा बालू की निर्धारित दर पर ही बिक्री हो।
  • DM ने संबंधित थानाध्यक्ष, अंचलाधिकारी को अपने-अपने क्षेत्र में बालू बिक्री स्थलों पर भ्रमणशील रहने तथा लाइसेंसियों को चिन्हित स्थलों से ही बालू की बिक्री सुनिश्चित करने का निर्देश दिया है।

 

खबरें और भी हैं…

Check Also

चीन में पढ़ रहे बिहार के छात्र की रहस्यमयी मौत

नई दिल्ली: बिहार के एक परिवार ने अपने लड़के की चीन में उसकी रहस्यमयी मौत पर …