रिपोर्ट: ऑस्ट्रेलियाई अधिकारियों के कैद में आए नोवाक जोकोविच

मेलबर्न: नोवाक जोकोविच को शनिवार को आव्रजन बंदी में वापस आने की सूचना मिली थी, क्योंकि उनके वकील द्वारा दोबारा कानूनी चुनौती देने के बाद निर्वासन पर फैसला लेने के लिए इस मामले को उच्च न्यायालय में शिफ्ट कर दिया गया था.

पुरुषों के नंबर 1 रैंकिंग वाले टेनिस खिलाड़ी और 9 बार के ऑस्ट्रेलियन ओपन चैंपियन नोवाक जोकोविच के ‘भविष्य’ पर फेडरल कोर्ट में सुनवाई होनी है.

ये फैसला रविवार को तड़के सुबह ले लिया जाएगा तब तक दोनों पार्टियां जोकोविच के निगरानी में रहने पर सहमत हुई हैं.

जो कि कोई आधिकारिक डिटेंशन सेंटर न हो कर जोकोविच के वकील का ऑफिस होगा.

पुलिस ने उस बिल्डिंग के पीछे की गली को बंद कर दिया हैं.

ऑस्ट्रेलियन एसोसिएटेड प्रेस ने बताया कि जोकोविच वापस हिरासत में हैं. पिछले सोमवार को रिहा होने से पहले उन्होंने मेलबर्न शहर के पास एक होटल में चार रातें बिताईं, जब उन्होंने अपने पहले वीजा रद्द करने के खिलाफ प्रक्रियात्मक आधार पर अदालती चुनौती जीती.

जिसके बाद आप्रवासन मंत्री एलेक्स हॉक ने शुक्रवार को 34 वर्षीय सर्ब के वीजा को दोबारा से रद्द किया था. बता दें कि जोकोविच अगर ये लड़ाई हार जाते हैं तो वो आने वाले 3 सालों तक ऑस्ट्रेलिया में प्रतिबंधित रहेंगें. हालांकि परिस्थितियों के आधार पर इसमें छूट दी जा सकती है.

उन्होंने पिछले तीन ऑस्ट्रेलियन ओपन जीते हैं, जो उनके 20 चैंपियनशिप के कुल ग्रैंड स्लैम का हिस्सा है. वो इतिहास में सबसे अधिक ग्रैंड स्लैम जीतने वाले तीसरे व्यक्ति हैं.

ग्रैंड स्लैम नियमों के अनुसार, अगर जोकोविच को पहले दिन के खेल से ही टूर्नामेंट से हटने के लिए मजबूर होना पड़ता है तो नंबर 5 सीड रुबलेव जोकोविच के स्थान पर चले जाएंगे.

वहीं जोकोविच के हटने के बाद एक ऐसे शक्स को इवेंट में एंट्री मिलती है जो क्वालीफाइंग में हार चुका होता है वहीं ऐसे खिलाड़ी को ‘लकी लूसर’ कहते हैं.

और अगर जोकोविच एक या दो मैच खेलने में सफल रहतें हैं लेकिन उसके बाद उनको जूर्नामेंट छोड़ना पड़ता है तो उनके विपक्षियों को अगले राउंड में जाने की आजादी होगी.

Check Also

content_image_bd7a26a3-fd5a-43ec-8826-939432532e44

क्रिकेट फैंस के लिए खुशखबरी- BCCI अध्यक्ष गांगुली ने कहा, जिंदा है बुमराह की उम्मीद

भारतीय क्रिकेट टीम के तेज गेंदबाज जसप्रीत बुमराह की चोट फिलहाल चर्चा का कारण बनी …