उत्तर कोरिया ने ट्रेन से दागी बैलिस्टिक मिसाइल, नहीं खत्म हो रही ‘तानाशाह की सनक’

सियोल: उत्तर कोरिया (North Korea) ने अपनी ताकत को बढ़ाने के लिए ट्रेन से बैलिस्टिक मिसाइल (Ballistic Missile) दागकर परीक्षण किया. उत्तर कोरिया का कहना है कि उसने एक ट्रेन से बैलिस्टिक मिसाइल का परीक्षण (Ballistic Missile Test From Train) किया है, जिसे अमेरिका (US) के जो बाइडन प्रशासन की तरफ से लगाए गए हालिया प्रतिबंधों का जवाब माना जा रहा है.

उत्तर कोरिया ने अमेरिका को दिया जवाब!

इस मिसाइल परीक्षण के कुछ समय पहले ही उत्तर कोरिया के विदेश मंत्रालय ने देश के पूर्व के परीक्षणों को लेकर उस पर नए प्रतिबंध लगाने के लिए अमेरिका की आलोचना की थी और ये चेतावनी दी थी कि अगर अमेरिका ‘टकराव वाला रवैया’ बनाए रखता है तो उसके खिलाफ सख्त और कड़े कदम उठाए जाएंगे.

 

हैरान रह गया दक्षिण कोरिया

वहीं दक्षिण कोरिया की सेना ने कहा था कि उसे उत्तर कोरिया की तरफ से दो मिसाइलें समुद्र की ओर दागे जाने का पता चला, जो इस महीने में उसका तीसरा मिसाइल परीक्षण है.

उत्तर कोरिया ने नई मिसाइलों की टेस्टिंग की तेज

गौरतलब है कि उत्तर कोरिया ने हाल के महीनों में नई मिसाइलों के परीक्षण तेज कर दिया है. कुछ विशेषज्ञों ने कहा है कि उत्तर कोरिया के नेता किम जोंग उन कुछ रियायतों की मांग करने के लिए बातचीत की पेशकश से पहले मिसाइल परीक्षणों के जरिए अपने पड़ोसियों और अमेरिका पर दबाव बनाने की अपनी सोची समझी रणनीति को फिर से अपना रहे हैं.

 

उत्तर कोरिया का कहना है कि शुक्रवार की मिलट्री एक्सरसाइज का उद्देश्य सेना की मिसाइल रेजिमेंट की क्षमता की जांच करना था.

Check Also

अमेरिका की कार्रवाई से यूक्रेन के आसपास तनाव बढ़ गया है: दिमित्री पेसकोव

मास्को, 26 जनवरी (आईएएनएस) क्रेमलिन के प्रवक्ता दिमित्री पेसकोव ने कहा कि रूस हाल की अमेरिकी …