चाहे कुछ भी हो, घर में आ ही नहीं सकती धूल; जब गमलों में लगे होंगे ये तीन पौधे

नई दिल्‍ली: हर घर में धूल की समस्‍या तो रहती है और इससे हर समय निजात पाना संभव भी नहीं है. ऐसे में यदि हम अपने गमलों में ऐसे पौधे लगा लें जो धूल को सोख सकते हों तो फिर बात ही क्‍या है.

इन पौधों की पत्‍त‍ियां होती हैं खास  

चीन में 2015 में एक स्‍टडी हुई थी कि कुछ पौधों की पत्‍त‍ियां इस तरह की बनी होती हैं जो अपनी सरफेस पर धूल जैसी चीजों को कलेक्‍ट कर सकती हैं.

घर के अंदर पॉल्‍यूशन को दूर करने में रामबाण है रबड़ प्‍लांट

इन्‍हीं में से पहला पौधा है रबड़ प्‍लांट्स जिनकी पत्‍त‍ियों की सतह मोम जैसी होती है. ये पत्‍त‍ियां घर के अंदर हवा में मौजूद पॉल्‍यूशन को सोख लेती हैं. नासा ने भी एक स्‍टडी में कहा है कि घर के अंदर पॉल्‍यूशन को दूर करने के लिए रबड़ का पौधा सबसे उपयुक्‍त है. इस पौधे की बड़ी पत्‍त‍ियां डस्‍ट को ज्‍यादा से ज्‍यादा अपने ऊपर कलेक्‍ट कर लेती हैं. इन पौधों को रोजाना साफ कर पौधे की ‘डस्‍ट कलेक्‍ट‍िव एफिशिएंसी’ को बढ़ाया जा सकता है.

हवा में से नमी और आद्रता को सोख लेता है इंग्‍ल‍िश आईवी पौधा 

दूसरा पौधा है इंग्‍ल‍िश आईवी जिसकी सभी वैरायटी डस्‍ट को कलेक्‍ट करने में अच्‍छी होती हैं. ये हवा में से नमी और आद्रता को सोख लेते हैं. ये काई की वृदधि को रोकने में बहुत कारगर होता है. ये एक देशी पौधk है जो आसानी से मिल जाता है और इसे लगाना भी आसान है.

 

केवल दो दिन में 90 फीसदी टॉक्‍स‍िक चीजों को खत्‍म कर देता है स्‍पाइडर प्‍लांट 

तीसरा पौधा है स्‍पाइडर प्‍लांट या मकड़ी का पौधा. मकड़ी के पौधों में रबर के पौधे की तरह चौड़ी पत्तियां नहीं होती हैं लेकिन उनके पत्तों का द्रव्यमान उन्हें धूल इकट्ठा करने का एक बढ़िया विकल्प बनाता है. केवल दो दिनों के दौरान मकड़ी के पौधे एक कमरे में लगभग 90 प्रतिशत विषाक्त पदार्थों को खत्म कर सकते हैं. मकड़ी के पौधे हवा को शुद्ध करने और हवा से नमी को दूर करने में भी अच्छे होते हैं.

Check Also

Indian-Bride-Wedding-Training

शादी का प्रशिक्षण: आप क्या कह सकते हैं! शादी से पहले दुल्हन को जो ट्रेनिंग दी जाती है, उसके पसीने छूट जाएंगे

भारतीय दुल्हन शादी प्रशिक्षण हिंदू धर्म में शादी एक रस्म है। हल्दी से विदाई तक कई …