बिहार: फ्लोर टेस्ट में पास हुई नीतीश कुमार की सरकार, मिला बहुमत

बिहार की राजनीति के लिए आज का दिन बेहद अहम रहा. नीतीश सरकार ने विधानसभा में पेश विश्वास मत जीत लिया है. एनडीए के पक्ष में कुल 129 वोट पड़े. इस बीच विपक्ष ने विधानसभा से वॉकआउट कर दिया. इससे पहले पटना में सियासी घमासान मचा हुआ है. राजद और कांग्रेस समेत महागठबंधन में शामिल सभी विधायकों को पटना में तेजस्वी के घर पर ठहराया गया है, जबकि बीजेपी-जेडीयू के विधायकों को चाणक्य होटल और पाटलिपुत्र होटल में ठहराया गया है.

नीतीश कुमार ने विधानसभा में बहुमत हासिल कर लिया

 

बिहार विधानसभा में नीतीश कुमार ने विश्वास मत जीत लिया। नीतीशकुमार के पक्ष में 129 वोट पड़े. बिहार विधानसभा से विपक्ष ने किया हंगामा बिहार विधानसभा में स्पीकर के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव पर नीतीश कुमार की सरकार ने फ्लोर टेस्ट पास कर लिया है. विपक्ष को कोई वोट नहीं मिला. राजद के 3 विधायकों ने क्रॉस वोटिंग की. सदन में बहुमत का आंकड़ा 122 है. इससे पहले सदन के अध्यक्ष अवध बिहारी चौधरी के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव पारित किया गया था.

बिहार विधानसभा में कुल 243 सीटें

बिहार विधानसभा में कुल 243 सीटें हैं. बहुमत का आंकड़ा 122 है, जबकि एनडीए के पास 128 विधानसभा सदस्य हैं. जिसमें बीजेपी के पास 78 सीटें, जेडीयू के पास 45 सीटें, हिंदुस्तानी अवाम मोर्चा (HAM) के पास 4 सीटें और एक निर्दलीय विधायक सुमित सिंह भी हैं. जबकि विपक्ष के पास 114 विधायक हैं. राजद के 79, कांग्रेस के 19, सीपीआई (एमएल) के 12, सीपीआई (एम) के 2, सीपीआई के 2 विधायक हैं।

हम अपनी पुरानी जगह पर वापस आ गए हैं: नीतीश कुमार

आज बिहार विधानसभा में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने अपना बहुमत साबित कर दिया है. इससे पहले विधानसभा में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा था कि हम अपनी पुरानी जगह पर लौट आए हैं, लेकिन किसी को नुकसान नहीं पहुंचाएंगे.

विश्वास मत पर मतदान प्रक्रिया शुरू करें

बिहार में विश्वास मत पर वोटिंग की प्रक्रिया शुरू हो गई है. नीतीश कुमार ने कहा कि पैसा कहां से आया, हम सबकी जांच कराएंगे. आपकी पार्टी सही काम नहीं कर रही है. कोई समस्या होने पर हमसे संपर्क करें. हम आपका काम करेंगे. राज्य हित में काम करेंगे. हम तीनों हमेशा साथ रहेंगे.

भारत पर कब्जे पर नीतीश कुमार का बयान

नीतीश कुमार ने कहा, हमने सबको एकजुट करने की कोशिश की. लेकिन हुआ क्या? कांग्रेस डरी हुई थी. जब हमने कहा कि बाकी पार्टियों को एक करो तो पता चला कि उनके पिता (लालू यादव) भी उनके साथ हैं. हम पुराने स्थान पर आ गए हैं, हर दिन के लिए आते हैं। हम किसी को नुकसान नहीं पहुंचाएंगे. सभी के हित में काम करेंगे.

हमने हिंदू-मुस्लिम झगड़ा रोका: नीतीश कुमार

नीतीश कुमार ने कहा कि हमसे पहले उनके माता-पिता को 15 साल तक नौकरी मिली. उसने क्या किया? क्या कोई रास्ता था? हमने हिंदू-मुस्लिम विवाद रोका. लोग शाम को बाहर निकलने से डरते थे.

नीतीश कुमार ने राजद पर बोला हमला

नीतीश कुमार ने कहा कि 2005 से हमें काम करने का मौका मिला. यह 18वां साल है. बीच में कुछ महीने का समय दिया गया. उसे क्या हुआ? आप सुनना नहीं चाहते. हमने सभी से सुना है.

राजद के 3 विधायक एनडीए खेमे में शामिल हो गए

उन्होंने यह भी कहा कि कोई आए या न आए, समय आने पर तेजस्वी आएंगे. इसी बीच विधानसभा अध्यक्ष अवध बिहारी चौधरी को उनके सामने लाया गया. वहीं, राजद के 3 विधायक एनडीए खेमे में शामिल हो गए हैं. अविश्वास प्रस्ताव पर एनडीए और महागठबंधन के बीच शह-मात का खेल जारी है. दोनों गठबंधनों की ओर से अपने-अपने विधायकों को मनाने की कोशिशें जारी हैं. पिछले कुछ दिनों से ऐसी आशंका जताई जा रही है कि जेडीयू और बीजेपी के कुछ विधायक बगावत कर सकते हैं.