राजस्थान में नया पश्चिमी विक्षोभ सक्रिय, जयपुर समेत चौदह जिलों में झमाझम बारिश

baarish_974

जयपुर, 23 सितंबर (हि.स.)। मानसून की विदाई से पहले राजधानी जयपुर समेत प्रदेशभर में एक बार फिर नया पश्चिमी विक्षोभ सक्रिय होने से मौसम बदल गया है। बीती रात से कोटा, चूरू, झालावाड़, झुंझुनूं, अजमेर, जयपुर, सीकर, उदयपुर, डूंगरपुर, बांसवाड़ा, झालावाड़, भरतपुर, धौलपुर, करौली समेत कई जगह तेज बारिश हुई। अचानक तेज हवाओं के चलने से मौसम सुहावना बनने के साथ ही पारे में दो से तीन डिग्री की गिरावट आ गई।

जयपुर में अलसुबह से टोंक रोड, मालवीयनगर, जगतपुरा, सीकर रोड, सांगानेर सहित आस-पास के इलाकों में तेज बारिश से जनजीवन अस्त व्यस्त हो गया। गुरुवार रात तेज हवा के साथ हुई बारिश से किसानों की चिंता बढ़ गई है। बाजरा, मक्का, तिल सहित अन्य फसलों के खराब होने का अंदेशा बना हुआ है। खेतों में पानी भरने से यह बारिश अन्नदाताओं के लिए आफत बन गई है। मौसम विभाग जयपुर के अनुसार बंगाल की खाड़ी में बना कम दबाव का क्षेत्र उत्तर पूर्वी मध्यप्रदेश और आस-पास के क्षेत्रों के ऊपर बना हुआ है। इससे आगामी दो दिनों के दौरान पश्चिमी उत्तर पश्चिम दिशा में आगे बढ़ने की संभावना है। पश्चिमी विक्षोभ के असर से दोबारा मानसून को गति मिलेगी। आगामी चार-पांच दिन पूर्वी राजस्थान के कुछ भागों में मानसून के पुनः सक्रिय होने से चार संभागों में तेज बारिश होगी।

जयपुर मौसम विभाग के मुताबिक शुक्रवार को धौलपुर, करौली, बारां, अलवर, बूंदी, चित्तौडगढ़़, दौसा, करौली, सवाई माधोपुर और टोंक में भारी बारिश की संभावना है, जबकि झालावाड़, झुंझुनूं, जयपुर, अजमेर, भरतपुर, कोटा, सीकर, भीलवाड़ा में मेघगर्जन के साथ वज्रपात और हल्की बरसात की संभावना है। शनिवार को सवाई माधोपुर, करौली, टोंक और धौलपुर में भारी बरसात, अलवर, भरतपुर, जयपुर में मेघगर्जन के साथ हल्की बारिश हो सकती है।

Check Also

Rajpath-2022-09-30T170929.403-1

शाहजहाँ ने बनवाया था ताजमहल, सबूत नहीं… सुप्रीम कोर्ट ने मांगी तथ्यान्वेषी टीम

ताजमहल का असली इतिहास जानने की मांग वाली एक याचिका सुप्रीम कोर्ट में दायर की गई है …