Alwar दुष्कर्म मामले में आया नया मोड़, मेडिकल रिपोर्ट में दुष्कर्म की पुष्टि नहीं

Alwar: अलवर दुष्कर्म मामले में नया मोड़ आया है. जयपुर से आई मेडिकल रिपोर्ट में दुष्कर्म की पुष्टि नहीं हुई है. इस मामले में अलवर आए डॉक्टर किरोड़ी मीणा ने आरोप लगाया था सरकार इस मामले को दबाना चाहती है. इस रिपोर्ट के बाद अभी कई सवाल है जिनका जवाब नहीं है. दुष्कर्म नहीं तो फिर उसे चोट कैसे लगी वो भी इंटरनल पार्ट में?

मंगलवार शाम को अलवर में तिजारा फाटक पुलिया पर घायल अवस्था मे मिली नाबालिग मूक बधिर से दुष्कर्म का मामला आया था. उस समय उसके प्राइवेट पार्ट से काफी खून बह रहा था. पुलिस ने प्रथम दृष्टया इसे दुष्कर्म मानते हुए पोक्सो एक्ट सहित विभिन्न धाराओं में मामला दर्ज कर जांच शुरू की और बच्ची की हालत गम्भीर होने के चलते उसे जयपुर रेफर कर दिया गया. चार दिन तक यह मुद्दा पूरे देश मे सुर्खियों में रहा.

पुलिस चार दिन में किसी आरोपी की गिरफ्तारी नही कर पाई है, जिससे आक्रोश बढ़ता गया. भाजपा साहित विद्यार्थी परिषद व कई सामाजिक संगठनों ने आरोपियों की गिरफ्तारी की मांग करते हुए प्रदर्शन किया. इसी मामले में राज्यसभा सांसद डॉक्टर किरोड़ी लाल मीणा भी अलवर पहुंचे और जिला परिषद कार्यालय के बाहर धरने पर बैठ गए. मीणा के साथ अलवर शहर विधायक संजय शर्मा सहित काफी संख्या में महिला पुरुष भाजपा कार्यकर्ताओं ने नारे बाजी के साथ प्रदर्शन किया. इस दौरान महिलाओ ने अंदर जाकर जिला कलेक्टर को ज्ञापन सौंपा ओर आरोपियो की अविलम्ब गिरफ्तारी की मांग की. इस दौरान मीणा ने कहा सरकार इस मामले को दबाना चाहती है, इस लिए इस मामले की जांच सीबीआई से करानी चाहिए.

 

आज इस पूरे मामले में नया मोड़ आया है. एसपी तेजस्वीनी गौतम ने प्रेस वार्ता में जयपुर जेके लोन की एक्सपर्ट पैनल ऑफ डॉक्टर्स ,जिन्होंने बच्ची की सर्जरी की है उसमें पीडियाट्रिशन, मेडिकल ज्यूरिस्ट, फोरेंसिक एक्सपर्ट व गायनेकोलॉजिस्ट शामिल है. उन्होंने अपनी ओपिनियन दी है कि लड़की के साथ दुष्कर्म नहीं हुआ है. उसके वजाइना एंड हाइमना इंटेक्ट आल्सो पीनल इंटेक्ट पाए गए हैं इसलिए दुष्कर्म की पुष्टि नहीं हो पाई है.

अब पुलिस अन्य सभी एंगिल से अपनी जांच जारी रखेगी, क्योंकि सीसीटीवी फुटेज में जो लास्ट फुटेज 7 बजकर 31 मिनट का है जिसमें युवती पैदल चलते हुए नजर आ रही है, वह घटना स्थल से 300 मीटर पहले का है. अब पुलिस उस दस से पन्द्रह मिनट के अंतराल पर फोकस कर रही जिस दौरान यह घटना घटी.

Check Also

ईडी की चार्जशीट में कहा गया कि महाराष्ट्र के पूर्व गृहमंत्री ने दी ट्रांसफर और पोस्टिंग के लिए अधिकारियों की सूची

मुंबई, 29 जनवरी (आईएएनएस) प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने 100 करोड़ पीएमएलए मामले में महाराष्ट्र के पूर्व …