भूलकर भी मेथी नहीं खानी चाहिए

मेथी में कई औषधीय गुण होते हैं। लेकिन ये थोड़े कड़वे होते हैं। इसलिए कुछ लोग बिल्कुल नहीं खाते हैं। जो स्वस्थ रहना चाहते हैं वे जरूर खाएंगे। मेथी के नियमित सेवन से कई स्वास्थ्य समस्याएं दूर हो सकती हैं। संक्रमण का खतरा भी कम होता है। 

मेथी में आयरन, मैग्नीशियम, फाइबर, प्रोटीन, कार्बोहाइड्रेट और मैंगनीज जैसे कई पोषक तत्व होते हैं। ये अधिक वजन, ब्लड शुगर लेवल, हाई ब्लड प्रेशर जैसी स्थितियों को कम करने में मदद करते हैं। मेंथी का पानी रोजाना पीने से पाचन क्रिया बेहतर होती है। वजन भी तेजी से कम होता है। कब्ज से छुटकारा। पीरियड्स का दर्द और परेशानियां भी कम होती हैं। घुटने के दर्द के मरीजों के लिए भी मेथी उपयोगी है। क्‍योंकि कई अध्‍ययन पहले ही यह साफ कर चुके हैं कि ये जोड़ों के दर्द को कम करने में कारगर हैं। मेथी के ये बीज अपच, पेट फूलना और सूजन जैसी समस्याओं को भी कम करते हैं। हालांकि कुछ लोगों को मेथी बिल्कुल नहीं खानी चाहिए। आइए जानें कौन हैं वो।

प्रेग्नेंट औरत

गर्भवती महिलाओं को मेथी से बचना चाहिए। क्‍योंकि ये नट्स गर्भवती महिलाओं में पाचन संबंधी समस्‍याओं का कारण बनते हैं। खासकर इन बीजों का गर्भ में पल रहे भ्रूण पर बुरा असर पड़ता है। इसका मतलब है कि बच्चे के विकलांग होने की संभावना है। इसलिए गर्भवती महिलाओं को मेथी का सेवन बिल्कुल नहीं करना चाहिए। 

सांस की समस्या

मेथी का सेवन करने से कई स्वास्थ्य समस्याएं दूर हो जाती हैं। लेकिन सांस की समस्या वाले लोगों को इसका सेवन नहीं करना चाहिए। अगर आप इसके लिए दवाओं का इस्तेमाल कर रहे हैं.. भूलकर भी मेथी का सेवन न करें। क्‍योंकि इन बीजों का असर दवाओं पर होता है। विशेषज्ञों का कहना है कि हो सकता है कि इन गोलियों से आपकी समस्या ठीक न हो। 

उच्च रक्तचाप

हाई ब्लड प्रेशर से पीड़ित लोगों को भी मेथी का सेवन नहीं करना चाहिए। क्‍योंकि ये नट्स बीपी को ज्‍यादा बढ़ाते हैं। निम्न रक्तचाप से पीड़ित लोग इसका विकल्प चुन सकते हैं। लेकिन उच्च रक्तचाप के रोगियों को इन नट्स से दूर रहना चाहिए। मेथी भी बच्चों को नहीं देनी चाहिए। 

Check Also

Weight Loss: रोज आलू खाने से वजन कम हो सकता है! बस जानिए बनाने और खाने का सही तरीका

वजन कम करने के लिए खाएं आलू: खराब लाइफस्टाइल के कारण आजकल ज्यादातर लोग काफी परेशान …