फ्लोरा सैनी ने ‘मी टू मूवमेंट’ के दौरान अपनी लिव-इन पार्टनर की करतूतों का जिक्र किया था। हाल ही में एक्ट्रेस श्रद्धा वॉकर और आफताब पूनावाला के दर्दनाक मामले को देखकर फूट-फूट कर रो पड़ीं। लिव-इन रिलेशनशिप का ऐसा अंजाम देखकर एक्ट्रेस खुद को रोक नहीं पाईं। मीडिया को अपनी आपबीती सुनाते हुए फ्लोरा ने कहा, ‘जब मेरे पूर्व प्रेमी (गौरांग दोषी) ने मुझसे अपने प्यार को साबित करने के लिए कहा, तो मैं उसके साथ लिव-इन रिलेशनशिप में आ गई। गौरांग तब इतने अच्छे लगते थे कि मेरे माता-पिता को भी उन पर शक नहीं हुआ।

फ्लोरा ने उन दर्दनाक दिनों को याद करते हुए कहा कि हमारे माता-पिता को अपनी गलती का एहसास होता है। पहले वे आपको आपके परिवार से दूर ले जाते हैं। फ्लोरा के साथ भी कुछ ऐसा ही हुआ। गौरांग ने उसका फोन छीन लिया। एक्ट्रेस समझ नहीं पा रही थीं कि जिससे वह प्यार करती थीं, वह अचानक उन्हें पीटना क्यों शुरू कर दिया। इतना ही नहीं जब एक्ट्रेस ने उन्हें छोड़ने की बात कही तो गौरांग ने सारी हदें पार कर दीं। एक्ट्रेस ने कहा, ‘उसने मुझे धमकी दी कि अगर मैंने उसे छोड़ने की कोशिश की तो वह मेरे माता-पिता को मार डालेगा.’

उस रात क्या हुआ था?
साल 2007 की उस दर्दनाक रात का जिक्र करते हुए फ्लोरा सैनी ने कहा, ‘एक रात गौरांग ने मुझे गाय से पीटा और मेरा जबड़ा तक तोड़ दिया।’ वह अपने पिता की फोटो दिखाता है और कहता है कि वह कसम खाता है कि वह आज उसे मार डालेगा। अभिनेत्री ने कहा कि जैसे ही वह तस्वीर को पकड़ने के लिए मुड़ी, उसे अपनी मां की बातें याद आ गईं। मां कहती थी – ‘ऐसी बात हो तो भाग जाओ। यह मत सोचो कि कपड़े पहनूं या नहीं। पैसा हो या नहीं, बस भाग जाओ।’

फ्लोरा ने दिखाई हिम्मत
फ्लोरा ने आगे कहा कि वह भागकर अपने घर चली गईं और फिर कभी पीछे मुड़कर नहीं देखा। बाद में एक्ट्रेस ने हिम्मत दिखाई। एक्ट्रेस अपने पूरे परिवार के साथ थाने पहुंचीं. लेकिन तभी पुलिसकर्मी ने शिकायत दर्ज करने के बजाय उसके पूर्व साथी को बुला लिया। फ्लोरा की एफआईआर लंबी जद्दोजहद के बाद दर्ज की गई।