डिप्रेशन जैसी मनोवैज्ञानिक समस्याओं को दूर करने में मददगार है मशरूम

अगर आपको मशरूम पसंद है तो खुश हो जाइए क्योंकि यह न केवल शरीर के लिए बल्कि मानसिक स्वास्थ्य के लिए भी बहुत फायदेमंद है। इसमें एर्गोथायोनीन नाम का एक शक्तिशाली एंटीऑक्सीडेंट होता है, जो डिप्रेशन जैसी मनोवैज्ञानिक समस्याओं से राहत दिलाने में मददगार होता है। यह तथ्य तब सामने आया जब अमेरिकी वैज्ञानिकों ने 2005 से 2016 तक 24,000 से अधिक अमेरिकी वयस्कों के आहार और मानसिक स्वास्थ्य का अध्ययन किया।

शोध से क्या पता चलता है

शोधकर्ताओं के अनुसार मशरूम डिप्रेशन और चिंता को कम करने में मददगार हो सकता है। पेंसिल्वेनिया स्टेट यूनिवर्सिटी के एक सार्वजनिक स्वास्थ्य वैज्ञानिक जोशुआ मस्कट के अनुसार, ‘मशरूम में विभिन्न प्रकार के विटामिन, खनिज और एंटीऑक्सिडेंट होते हैं जो अवसाद को रोकने में मदद कर सकते हैं।

सेहत के साथ-साथ मशरूम मूड को भी दुरुस्त रखता है

शोधकर्ताओं के मुताबिक, इसमें एर्गोथायोनिन नाम का एंटीऑक्सीडेंट होता है जो पाचन तंत्र के लिए फायदेमंद होता है। इसके अलावा, इसका न्यूरोलॉजिकल स्वास्थ्य पर सकारात्मक प्रभाव पड़ता है क्योंकि इसमें न्यूरॉन्स होते हैं जो किसी व्यक्ति के मूड को प्रभावित करते हैं। इसलिए पौष्टिक मशरूम को अपने नियमित आहार में शामिल करें।

सिर्फ सब्जियां ही नहीं, मशरूम से आप स्वादिष्ट सूप भी बना सकते हैं. इसे हफ्ते में एक या दो बार खाएं। इसके साथ ही खुद को शारीरिक रूप से स्वस्थ रखना भी बहुत जरूरी है। जिसमें योग, कार्डियो व्यायाम और ध्यान विशेष भूमिका निभाते हैं। अगर आप कुछ नहीं कर सकते हैं तो सुबह-सुबह सूर्य नमस्कार करने से भी कई फायदे होते हैं।

विशेषज्ञ की राय

यह खोज कुछ हद तक सही है, लेकिन अकेले मशरूम खाने से मनोवैज्ञानिक समस्याओं से बचाव नहीं होता है। उन्हें मनोवैज्ञानिक से परामर्श और उपचार की भी आवश्यकता होती है।

Check Also

0b0jmDrOA1ekVutFBfRVToRn9wTm5Rumqech9Awd

सोने से पहले इन टिप्स से हटाएं मेकअप, नहीं होगी त्वचा खराब

आजकल लोग मेकअप करके खूबसूरत दिखना पसंद करते हैं। इसके लिए वे कई तरह के कॉस्मेटिक्स …