भारत की टी20 वर्ल्ड कप हार से तबाह हुए एमएस धोनी, खेला टेनिस फाइनल, खत्म नहीं कर सकते मैच

अपने जमाने में टीम इंडिया का झंडा लहराने वाले एमएस धोनी एडिलेड में अपनी हालत देखकर मायूस हो गए। भारतीय टीम ने पहले बल्लेबाजी करते हुए 169 रनों का लक्ष्य दिया था, जो न केवल मैच के लिए बल्कि फाइनल के टिकट के लिए था। 9 साल का इंतजार एक बार फिर छूटा, इससे धोनी को दुख हुआ। टी20 वर्ल्ड कप 2022 में भारत और इंग्लैंड के बीच सेमीफाइनल मैच देखने के बाद जब धोनी अपना फाइनल टेनिस मैच खेलने आए तो वह भी पूरी तरह से नहीं खेल पाए. हालांकि धोनी के पूरे फाइनल टेनिस मैच नहीं खेलने की वजह कुछ और थी।

इसमें कोई शक नहीं कि सेमीफाइनल में इंग्लैंड के हाथों भारत की हार से धोनी निराश थे। लेकिन कोर्ट पर पर्याप्त रोशनी नहीं होने के कारण टेनिस का फाइनल मैच नहीं खेला जा सका. आपको बता दें कि धोनी जेएससीए टेनिस टूर्नामेंट के फाइनल मैच में खेल रहे थे। टूर्नामेंट रांची में खेला जा रहा है.

सेमीफाइनल से निराश धोनी नहीं खेल सके पूरा फाइनल!

फाइनल मैच के लिए धोनी एक घंटे देरी से टेनिस कोर्ट पहुंचे। इसकी वजह भारत और इंग्लैंड के बीच सेमीफाइनल मैच था, जिसे वो देख रहे थे. टूर्नामेंट की युगल स्पर्धा में भाग ले रहे धोनी ने अपने साथी सुमित के साथ पहला सेट 6-2 से जीत लिया. लेकिन, खराब रोशनी के कारण मैच रद्द कर दिया गया था। निलंबन के बाद मैच दोबारा शुरू नहीं हो सका और अब अगला मैच 14 नवंबर को खेला जाएगा।

अब मैच 14 नवंबर को खेला जाएगा

हालांकि, जो मैच हुआ उसमें धोनी और सुमित की जोड़ी पूरी तरह से आगे की टीम पर हावी रही।फाइनल में उनका सामना कन्हैया और रोहित की जोड़ी से हुआ। धोनी ने पहले सेट के दौरान जिस तरह का खेल दिखाया वह अद्भुत था। उनकी सेवाओं और स्मैश को काफी सराहा गया। खास बात यह है कि धोनी जिस तरह क्रिकेट में अपने विरोधियों का दिल जीतते थे, वह यहां भी ऐसा ही करते नजर आए। हालांकि अब उन्हें अपने फाइनल मैच के फाइनल नतीजे के लिए 14 नवंबर तक इंतजार करना होगा।

Check Also

रवींद्र जडेजा को सर क्यों कहते थे धोनी? आपने एक समय पर क्रिकेट छोड़ने का फैसला क्यों किया

Happy Birthday Ravindra Jadeja: मौजूदा समय में  रवींद्र जडेजा भारतीय क्रिकेट टीम का एक मजबूत हिस्सा …