देश में मोदी सरकार के केंद्रीय बजट को विकसित भारत का बजट सांसद सतीश दूबे ने बताया

पश्चिम चंपारण(बगहा),3फरवरी(हि.स.)।भारत में अर्थव्यवस्था का सकारात्मक परिवर्तन हुआ है, यह अंतरिम बजट प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के विकसित भारत वर्ष 2047 के दृष्टिकोण को आगे बढ़ाता है और अगले 23 वर्षों के लिए दिशा निर्धारित करता है, जब भारत स्वतंत्रता की एक शताब्दी मनायेगा। यह बजट पिछले वर्ष के आधार पर बनाया गया है, जो मोदी सरकार के “सबका साथ, सबका विकास” के आदर्श वाक्य के अनुरूप, गरीब, युवा, अन्नदाता और नारी ज्ञान को शामिल करता है।उक्त बातें राज्यसभा के सदस्य सतीश दूबे ने प्रेस कांफ्रेंस के दौरान बगहा नगर स्थित भाजपा कार्यालय में कहा है।

उन्होंने कहा कि उच्च गैर निष्पादित परिसंपत्तियों और निराशाजनक कॉर्पोरेट क्षेत्र के साथ एक टूटी हुई अर्थव्यवस्था कांग्रेस से विरासत के रूप में प्रधानमंत्री मोदी को मिला था, इसके बावजूद, मोदी सरकार ने सार्वजनिक निवेश को प्रोत्साहित करने, धीरे-धीरे पूंजीगत व्यय परिव्यय में वृद्धि और लक्षित सार्वजनिक सेवाएं प्रदान करने की लक्षित त्रि-आयामी नीति के माध्यम से सकारात्मक राजकोषीय समेकन हासिल किया है।

दूबे बताया कि मोदी सरकार में देश के बुनियादी ढांचे में विकास हुआ है मोदी सरकार ने देश की आर्थिक वृद्धि को बढ़ाने के लिए बड़े पैमाने पर मजबूत बुनियादी ढांचे का निर्माण किया है। इस प्रयास का एक उल्लेखनीय उदाहरण हवाई अड्डों की संख्या में पर्याप्त वृद्धि है, जो अब 149 तक पहुंच गई है। यह आंकड़ा 2014 तक मौजूद हवाई अड्डों की संख्या की तुलना में