MP Board 10th Result 2020: जानिए- साल दर साल कैसे लड़कियों ने लड़कों पर बाजी मारी है

आज मध्यप्रदेश में दसवीं बोर्ड का रिजल्ट घोषित किया जाना है. आज दोपहर 12:00 बजे मध्य प्रदेश बोर्ड ऑफ सेकंड्री एजुकेशन दसवीं के परीक्षा परिणाम घोषित करेगा. जिसे लेकर आधिकारिक सूचना दे दी गई है. इस साल दो विषय की परीक्षा लॉकडाउन लगाए जाने का कारण नहीं हो पाई हैं. इन दो विषयों में छात्रों को जनरल प्रमोशन दिया गया है. रिजल्ट mpresults.nic.in पर घोषित किया जाएगा.

 

वहीं मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान का कहना है कि MP Board 10वीं की मेरिट लिस्ट बनाते समय जिन विषयों की परिक्षाएं हुई थी उन्हें ही आधार बनाया जाएगा. बता दें कि सबकी नजर MP Board 10th Result 2020 के टॉपर्स होंगी. वहीं टॉपर्स की घोषणा मध्य प्रदेश बोर्ड ऑफ सेकेंडरी एजुकेशन द्वारा होगी. बीते सालों में मध्य प्रदेश की छात्राओं ने परीक्षा परिणामों में उम्दा प्रदर्शन कर छात्रों को पटखनी दी है.

 

साल 2019 का आंकड़ा

 

इस बार देखना होगा की छात्राएं परीक्षा परिणामों में कितना अच्छा प्रदर्शन करती हैं. बीते सालों में मध्य प्रदेश की छात्राओं ने परीक्षा परिणामों पर अपना दबदबा कायम रखा हुआ है. साल 2019 के परीक्षा परिणाम की बात करें तो इस साल MP Board 10वीं की परीक्षा में 11,32,319 छात्र-छात्राओं ने हिस्सा लिया था. जिसमें से उत्तीर्ण होने वाले छात्रों का प्रतिशत 61.32 रहा था. 59.15 फीसदी लड़के उत्तीर्ण हुए थे और 63.69 फीसदी पास परसेंटेज के साथ लड़कियों ने बाजी मारी थी.

 

साल 2018 का आंकड़ा

 

साल 2018 में 12 लाख से ज्यादा परिक्षार्थियों ने नामाकन किया था. वहीं 10वीं की परीक्षा में 66 फीसदी स्टूडेंट्स पास हुए थे. इस साल दसवीं में अनामिका साध और हर्षवर्धन परमार ने संयुक्त रूप से टॉप किया था. प्रदेश में इस साल 180 टॉप रैंक में 98 लड़कियां और 82 लड़के थे. इस साल छात्रों का उत्तीर्ण प्रतिशत 66.54 था. जो बीते दो दशकों में सबसे अच्छा था. वहीं छात्राओं ने बाजी मारते हुए छात्रा को पछाड़ दिया था. इस साल 69% रिजल्ट लड़कियों ने 64% लड़कों के मुकाबले इसे पास किया.

 

साल 2017 का आंकड़ा

 

साल 2017 में 11,56,095 छात्रों ने दसवीं की परीक्षा दी थी. जिसमें से 53.87% छात्र सफल हुए थे. इस साल 10वीं की परीक्षा में ग्वालियर जिले के डबरा निवासी देवप्रकाश मांझी ने 600 में से 587 अंक प्राप्त कर प्रदेश भर में पहला स्थान पाया. दसवीं की प्रावीण्य सूची में प्रथम 10 स्थानों पर कुल 58 परीक्षार्थियों ने जगह बनाई थी.

 

साल 2016 का आंकड़ा

 

साल 2016 में MPBSE कक्षा 10 वीं की परीक्षा में 12,28703 छात्र-छात्राओं ने दसवी की बोर्ड की परीक्षा दी थी. जिसमें 7,52,596 परीक्षार्थी सफलतापूर्वक परीक्षा उत्तीर्ण करने में सफल रहे. मध्य प्रदेश में 2016 में हुई परीक्षा में 53.87 फीसदी छात्र पास हुए. जिसमें लड़कियों ने 69.42 उत्तीर्ण प्रतिशत स्कोर करके लड़कों को एक महत्वपूर्ण अंतर से मात दी थी. परीक्षा में छात्रों का प्रतिशत 62.6% रहा था.

 

साल 2015 का आंकड़ा

 

साल 2015 में मध्यप्रदेश बोर्ड की हाईस्कूल परीक्षा में 11.25 लाख स्टूडेंट्स ने परीक्षा दी थी. सरकारी स्कूलों का परीक्षा परिणाम 48.16% और निजी स्कूलों का परिणाम 51.89% रहा. लड़कों के मुकाबले इस बार लड़कियों का पास प्रतिशत बेहतर रहा. रिजल्ट के मुताबिक़ लड़कों का परसेंटेज 49.45 % जबकि लड़कियों का 50.18 % रहा. इस बार दो छात्रों ने संयुक्त रूप से पहला स्थान हासिल किया. बता दें कि सिंगरौली के संदीप कुमार शाह और कटनी के शिवम दुबे ने 600 में 586 मार्क्स लेकर मेरिट लिस्ट में टॉप स्थान हासिल किया था.

Check Also

दिल्ली यूनिवर्सिटी आज शाम तक शिकायत निवारण कमेटी को एक्टिव करे: हाई कोर्ट

नई दिल्ली : दिल्ली हाई कोर्ट ने दिल्ली युनिवर्सिटी को आज शाम तक शिकायत निवारण …