Mosquito Facts: किसी जानलेवा वायरस से कम नहीं हैं मच्छर, ये आंकड़े आपको कर सकते हैं हैरान

Mosquito Facts: देश के ज्यादातर राज्यों में भारी बारिश हो रही है, जिससे लोगों को भीषण गर्मी से राहत मिली है. हालांकि बारिश के साथ मच्छर जनित बीमारियों का खतरा भी बढ़ जाता है। मच्छरों को गंभीरता से नहीं लिया जाता है, लेकिन यह एक अदृश्य प्राणी है, लेकिन एक बार काटने के बाद इसे निगलना पड़ता है। आपको जानकर हैरानी होगी कि हर साल दस लाख से ज्यादा लोग मच्छर जनित बीमारियों के कारण अपनी जान गंवाते हैं।

ऐसे में आइए जानते हैं एक छोटा सा मच्छर इंसानों के लिए कितना खतरनाक साबित होता है…

– दुनिया भर में हर साल लाखों लोग मच्छरों के काटने से बीमार होते हैं। रिपोर्ट्स के मुताबिक पूरी दुनिया में सबसे खतरनाक जीवों में मच्छर सबसे खतरनाक प्रजाति है।

भारत जैसे देश में भी हर साल हजारों लोग मच्छरों के काटने से होने वाली बीमारियों के कारण अपनी जान गंवाते हैं। दुनिया भर में, मच्छर के काटने से हर साल लगभग दस लाख लोगों की मौत हो जाती है।

– आपको बता दें कि इंसानों का खून सिर्फ मादा मच्छर ही चूसती है, जबकि नर मच्छर पेड़-पौधों के रस का इस्तेमाल करते हैं।

– मच्छर का औसत जीवन चक्र तीन महीने का होता है। जिसमें नर मच्छर केवल 10 दिन तक जीवित रहता है। एक मादा मच्छर मरने से पहले 500 अंडे तक दे सकती है। जबकि एक मच्छर एक सेकंड में 500 बार अपने पंख फड़फड़ाता है।

– दुनियाभर में मच्छरों की 3,500 प्रजातियां पाई जाती हैं। लेकिन इनमें से ज्यादातर प्रजातियां ऐसी हैं जो इंसानों को बिल्कुल भी परेशान नहीं करती हैं। ये मच्छर हैं, जो केवल फलों और पौधों के रस पर रहते हैं।

– डेंगू, मलेरिया, जीका वायरस, चिकनगुनिया जैसी बीमारियां मच्छरों के जरिए एक व्यक्ति से दूसरे व्यक्ति में फैलती हैं। इनमें से कई हजार बच्चे जीका वायरस के कारण अफ्रीकी और दक्षिण अमेरिकी देशों में पैदा हुए थे, जिनका दिमाग पूरी तरह से विकसित नहीं था।

Check Also

egg-12-960x507

उबले अंडे साइड इफेक्ट: जिम जाने वालों से रहें सावधान, ज्यादा उबले अंडे खाने से भी हो सकते हैं साइड इफेक्ट

उबले अंडे का साइड इफेक्ट: अंडे को प्रोटीन का एक समृद्ध स्रोत माना जाता है, एक …