Monsoon in MP: तय समय से एक हफ्ते पहले एमपी पहुंचा मानसून, इन जिलों में 3-4 दिन जमकर बरसेंगे बादल

भोपालः मौसम विभाग का अनुमान था कि 20 जून के आसपास मानसून एमपी पहुंचेगा. हालांकि अब एमपी में मानसून तय समय से एक हफ्ते पहले ही पहुंच गया है. ऐसे में गर्मी और उमस से जूझ रहे प्रदेशवासियों को राहत मिलने की उम्मीद है. मौसम विभाग के अनुसार, मानसून प्रदेश के दक्षिण पश्चिमी इलाके बैतूल, छिंदवाड़ा, सिवनी, बालाघाट और मंडला तक पहुंच गया है. मौसम विभाग ने मानसून के राज्य पहुंचने की आधिकारिक घोषणा भी कर दी है.

मानसून के जल्दी पहुंचने की ये है वजह
मौसम विज्ञानियों के अनुसार, मानसून भले ही राज्य पहुंच गया है लेकिन यह 20 जून तक ही सक्रिय हो पाएगा. इस दौरान कुछ जगहों पर तेज बारिश हो सकती है. मानसून के 13-14 जून तक इंदौर-भोपाल पहुंचने की संभावना है. मानसून के आगमन के साथ ही उमरिया, मलाजखंड, मंडला, सीधी, छिंदवाड़ा, रीवा, सागर, सतना और जबलपुर में गुरुवार शाम को बारिश भी हुई.

 

मौसम वैज्ञानिकों के अनुसार, अरब सागर और बंगाल की खाड़ी में बीते 10 दिनों से मानसून के लगातार सक्रिय रहने के कारण एमपी में मानसून तय समय से पहले आ गया है. बंगाल की खाड़ी में एक चक्रवात मजबूत हो रहा है, जिसके असर से राज्य के पूर्वी इलाकों में तेज बरसात होने की उम्मीद है.

इस बार गर्मी से रही राहत
इस बार लोगों को अपेक्षाकृत गर्मी से राहत रही. बीते दिनों राज्य में कई जगह अच्छी बारिश देखने को मिली थी. बीते 3-4 दिन ही थोड़ी गर्मी और उमस रही, अब मानसून की आमद से लोगों को फिर गर्मी से राहत मिल गई है. मई के माह में भी मौसम अपेक्षाकृत कम गर्म रहा था. बता दें कि इस बार जून के पहले हफ्ते में तापमान 40 डिग्री के पार नहीं पहुंचा है.

विभाग के अनुसार, अगले तीन-चार दिन भोपाल, इंदौर, होशंगाबाद, हरदा और सीहोर सहित प्रदेश के कई इलाकों में अच्छी बारिश होने की संभावना है. बीते 5 वर्षों की बात करें तो एमपी में मानसून आमतौर पर 20 जून से लेकर 30 जून के बीच ही आता है.

Check Also

पूर्व BJP कॉर्पोरेटर की चाकू मारकर हत्या, 3 साल पहले पति की भी ऐसे ही हमले में हुई थी मौत

  कर्नाटक के बेंगलुरु में भारतीय जनता पार्टी की पूर्व महिला कॉर्पोरेटर रेखा कादिरेश की चाकू मारकर …