मीराबाई चानू ने भारोत्तोलन विश्व चैम्पियनशिप में रजत पदक जीतकर इतिहास रचा

ओलंपिक रजत पदक विजेता मीराबाई चानू ने भारोत्तोलन विश्व चैंपियनशिप में इतिहास रच दिया है। मीराबाई ने भारोत्तोलन विश्व चैंपियनशिप में कुल 200 किलो वजन उठाकर रजत पदक जीता। इस वेटलिफ्टिंग वर्ल्ड चैंपियनशिप में चीनी वेटलिफ्टर जियांग हुइहुआ ने 206 किलो वजन उठाकर गोल्ड मेडल जीता। इसके अलावा एक अन्य चीनी वेटलिफ्टर हौ झिहुई ने 198 किग्रा भार उठाकर पोडियम पर जगह बनाई। झिहुई 49 किग्रा वर्ग में ओलंपिक चैंपियन हैं। उन्होंने टोक्यो ओलंपिक में 49 किग्रा वर्ग में स्वर्ण पदक जीता था।


कोलंबिया के बोगोटा में भारोत्तोलन विश्व चैंपियनशिप में मीरा की यात्रा आसान नहीं थी, उन्होंने 113 किग्रा के क्लीन एंड जर्क में रजत पदक हासिल किया ।वह चोट से जूझती रही और क्लीन एंड जर्क में 113 किग्रा भार उठाकर रजत पदक जीता। हालांकि, उसने स्नैच प्रयास के दौरान एक शानदार बचाव किया, जहां उसने वजन उठाने के दौरान अपना संतुलन खो दिया लेकिन अपने घुटनों और निचले शरीर को सहारा देकर अपने शरीर पर नियंत्रण बनाए रखा। मीराबाई ने स्नैच में 87 किलो वजन उठाया। इस तरह उन्होंने कुल 200 किलो वजन उठा लिया।

ओलंपिक चैंपियन को हराकर पदक जीता
भारतीय भारोत्तोलक मीराबाई चानू ने भारोत्तोलन विश्व चैंपियनशिप में ओलंपिक चैंपियन होउ झिहुई को हराकर रजत पदक जीता। झिहुई क्लीन एंड जर्क में केवल 109 किग्रा और स्नैच में 89 किग्रा भार उठा सके। भारतीय वेटलिफ्टर चानू ने क्लीन एंड जर्क में 113 किलो और स्नैच में 87 किलो वजन उठाने में कामयाबी हासिल की। झिहुई ने तीसरा स्थान हासिल किया और कांस्य पदक हासिल किया। मीराबाई ने रजत पदक पक्का किया। इस प्रतियोगिता में चीन की जियांग हुआहुआ ने क्लीन एंड जर्क में 113 किग्रा और स्नैच में 93 किग्रा भार उठाया। इस तरह उन्होंने कुल 206 किलो वजन उठाकर वर्ल्ड चैंपियनशिप में गोल्ड मेडल जीता।

Check Also

सानिया मिर्जा के आखिरी मैच पर शोएब मलिक का भावुक ट्वीट

Shoiab Malik Twit: सानिया मिर्जा के आखिरी मैच के बाद शोएब मलिक ने एक इमोशनल …