Lucknow Weather Today: लखनऊ में कड़ाके की ठंड के बाद अब बारिश का दौर, दो दिन होगी झमाझम वर्षा..निकलें संभलकर

Lucknow Ka Mausam 25 January 2023: उत्तर प्रदेश में मौसमी बदलाव का असर दिख रहा है। अब तक कड़ाके की ठंड से जूझने वाले इस प्रदेश की फिजां बदलने लगी है। फ़िलहाल बारिश और बूंदाबांदी का सिलसिला जारी है। बीते कुछ समय से एक के बाद एक पश्चिमी विक्षोभ (Western Disturbance) के आना जारी है। जिसका असर पहाड़ी और उत्तर भारत के राज्यों पर साफ-साफ दिख रहा है। यूपी की राजधानी लखनऊ भी इससे अछूता नहीं है।

प्रदेश के कई जिलों में पिछले तीन दिनों से बूंदाबांदी देखी जा रही है। वहीं, कुछ इलाकों में ओले भी पड़े। आंचलिक मौसम विभाग की मानें तो प्रदेश को जल्द बारिश से राहत मिलने के आसार नजर नहीं आ रहे। माना जा रहा इसके साथ ही प्रदेश में एक बार फिर ठंड बढ़ सकती है। लखनऊ में फिलहाल मौसम सामान्य है। न्यूनतम तापमान के ऊपर चढ़ने से गलन वाली ठंड से थोड़ी राहत जरूर मिली है। दोपहर की खिली धूप भी लोगों को सुकून दे रही है। मगर, शाम से देर रात का लंबा समय अभी भी सर्दियों में बीत रहा है।

लखनऊ में 26 जनवरी तक बारिश के आसार

मौसम विभाग का पूर्वानुमान है कि, लखनऊ में 25 और 26 जनवरी को बारिश देखी जा सकती है। वहीं, 27 और 28 जनवरी को राहत जरूर मिलेगी। लेकिन, 29 जनवरी को एक बार फिर बरसात का अनुमान जताया जा रहा है। इस दौरान न्यूनतम तापमान 13 से 14 डिग्री सेल्सियस के आसपास रह सकता है। मौसम की इस तब्दीली की वजह पश्चिमी हिमालयी क्षेत्र (Western Himalayan Region) में सक्रिय पश्चिमी विक्षोभ को बताया जा रहा है। 27 जनवरी से एक ताजा वेस्टर्न डिस्टर्बेंस सक्रिय हो रहा है। इसका असर उत्तर-पश्चिम भारत (North-West India Weather) पर देखने को मिलेगा। इससे पश्चिमी हिमालयी क्षेत्र से सटे मैदानी इलाकों में बारिश और पहाड़ी राज्यों में बर्फबारी हो सकती है। ये बारिश और बर्फबारी 27 से 29 जनवरी तक होगी।

शुक्रवार से राजधानी में फिर बढ़ेगी ठंड

लखनऊ समेत प्रदेश के अन्य हिस्सों में बुधवार (25 जनवरी) को बारिश का पूर्वानुमान जताया गया है। हालांकि, बसंत ऋतु की शुरुआत के साथ ही लोगों को ठंड से राहत मिली है। लखनऊ में अब दिन में तेज धूप निकल रही है। सुबह के समय बादलों का असर होने से धुंध और कोहरे से लोगों को निजात मिली है। लखनऊ में आज मध्यम बारिश का अनुमान है। कई इलाकों में छिटपुट बारिश हो सकती है। गुरुवार तक राजधानी में बादलों का असर देखने को मिलेगा। इस वजह से राजधानी के अधिकतम और न्यूनतम तापमान में वृद्धि दर्ज की जाएगी। शुक्रवार से एक बार फिर न्यूनतम तापमान में कमी होने लगेगी। लेकिन, राहत की बात है कि खिली धूप का असर बढ़ने के बाद इस महीने के अंत तक लोगों को ठंड से पूरी तरह से राहत मिल सकती है।

Check Also

पहले सैफई में महोत्सव होता था अब हर जिले में हो रहा महोत्सव : जयवीर सिंह

फिरोजाबाद, 27 जनवरी (हि.स.)। उत्तर प्रदेश के कैबिनेट मंत्री जयवीर सिंह ने शुक्रवार की देर …