अलसी के औषधीय गुण, जानिये इसके फायदे, नुक्सान और उपयोग के तरीके

अलसी जिसे हम Flax Seed भी कहते हैं, यह एक ऐसा खाद्य पदार्थ है जिसका सेवन हर रूप में लाभदायक ही होता है। अलसी के औषधीय गुण की वजह से यह बहुत ही ज्यादा फायदेमंद मानी जाती है और इसमें मौजूद गुणों की वजह से कई रोगों से निजात दिलानी की ताकत है। अलसी ओमेगा-3 ,फैटी एसिड,विटामिन बी ,प्रोटीन ,फाइबर, मैग्नीशियम,मैंगनीज ,फास्फोरस,सेलेनियम आयरन आदि का बहुत बढ़िया स्त्रोत है। अलसी हमारे पूरे शरीर की प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाता है, यह कई बिमारियों के इलाज में भी चमत्कारी साबित हुआ है।

आइये जानते हैं अलसी के औषधीय गुण के बारे में

अलसी के औषधीय गुण

अलसी में मौजूद पोषक तत्व

पोषकता के मामले में अलसी सबसे अधिक फायदेमंद भोजनों में से एक है। इसका निरंतर सेवन सेहत के लिए बहुत फायदेमंद होता है। इसमें कैलोरी, फाइबर, प्रोटीन, कार्बोहाइड्रेट, कॉपर, सेलेनिय मौजूद हो हैं। इसके अलावा अलसी में पर्याप्त मात्रा में विटामिन एवम पोषक्त तत्व मौजूद रहते हैं।

वजन घटाने में सहायक

अलसी में हाई फाइबर और लो कार्बोहाइड्रेट होता है जो वजन कम करने में सहायक होता है। इसके नियमित सेवन से खराब कोलेस्ट्रोल कम होता है। यह अत्यधिक भूख को मिटाता है और वजन को कम करता है। यह मस्तिष्क को सन्देश भेजता है की अब भोजन की जरूरत खत्म हो चुकी और फाइबर पेट को भर देता है। जिससे भूख की अनुभूति नही होती।

दिल की बिमारियों में

अलसी हार्टबीट को नॉर्मल करने हमे सहायक होता है। इससे धमनियों में भर कोलेस्ट्रोल घटने लगता है। और रक्त का बहाव सामान्य रहता है। इसके सेवन से हार्ट अटेक की सम्भावना भी बहुत घटी रहती है।

पाचन में

फाइबर युक्त होने के कारण अलसी पाचन तंत्र के लिए चमत्कारिक है। इसके सेवन से डायरिया,कब्ज ,सूजन जैसी पेट की समस्याओं में राहत मिलती है। अलसी के बीज को नाश्ते में खाने चाहिए। इससे पेट के तमाम रोग ठीक होते है।

अलसी के औषधीय गुण

डायबिटीज के लिए

इस बदलते दौर में हर दूसरे व्यक्ति को डायबिटीज की शिकायत है। ऐसे में अलसी का उपयोग बढ़े शुगर लेवल के लिए अद्भुत कार्य करता है। अमेरिका में हुए एक शोध में यह पता चलता है की अलसी के पौधे में पाये जाने वाला लिगनन शरीर में ब्लड शुगर लेवल को नियंत्रित करता है। यदि आधे चम्मच अलसी को नियमित रूप से सेवन रक्त में शुगर के मात्रा को कम करता है। 12 हफ्तों तक प्रतिदिन अलसी के सेवन से इन्सुलीन की मात्रा में भारी गिरावट आ जाती है। इसके अलावा इसे का उपयोग कफ सम्बंधित समस्याओं,त्वचा एक बालों के लिए ,आँखों के लिए भी किया जाता है। कैंसर में भी इसका सफल परिमाण पाया गया है।

इस्तेमाल का सही तरीका

आइये अब जान लेते है की अलसी का इस्तमाल आखिर कैसे करें। इसे इस्तमाल करने के लिए अलसी के बीज का चूर्ण बना लें। इस चूर्ण का सेवन आप खाने अथवा किसी पेय पदार्थ में मिला कर सकते हैं।

Check Also

जल्द मां बनने वाली हैं छोटे पर्दे की एक्ट्रेस रुबीना दिलैक!, छोड़ा मां वैष्णो देवी शो

‘शक्ति अस्तित्व के अहसास की’ में एक दमदार रोल के तौर पर रुबीना दिलैक को …