Maruti की इस कार में मिली खराबी, कंपनी ने वापस मंगाई 40 हजार से ज्यादा गाड़ियां

नई दिल्ली: देश की सबसे बड़ी कार निर्माता कंपनी मारुति सुजुकी (Maruti Suzuki India) ने 40 हजार से ज्यादा Eeco गाड़ियों को रीकॉल किया है, यानि ग्राहकों से वापस मंगवाया है. Eeco मारुति सुजुकी की एक मल्टी परपज व्हीकल (MPV) है.

Eeco की 40,453 यूनिट्स रीकॉल कीं 

मारुति सुजुकी आज बताया कि Eeco की 40,453 यूनिट्स को वापस मंगवाया गया है, क्योंकि इसके हेडलैम्प्स में खराबी है. Eeco की ये सभी यूनिट्स की मैन्यूफैक्चरिंग 4 नवंबर 2019 से 25 फरवरी 2020 के दौरान हुई है. मारुति ने कहा कि वो सभी यूनिट्स की जांच करेगा, और देखेगा कि क्या उनके हेडलैम्प्स में कोई खराबी है. अगर कोई खराबी पाई जाती है तो कंपनी उसे फ्री में ठीक करके ग्राहकों को देगी.’

आपकी कार तो नहीं लिस्ट में, ऐसे करें चेक 

 

इन सभी गाड़ियों के मालिकों को मारुति सुजुकी के ऑथराइज्ड डीलर्स इस रीकॉल कैम्पेन के बारे में बताएंगे. अगर कोई कस्टमर चाहे तो खुद भी ये चेक कर सकता है कि उसकी Eeco कार रीकॉल के दायरे में है या नहीं. मारुति की वेबसाइट www.marutisuzuki.com पर जाना होगा. यहां पर एक सेक्शन होगा ‘Imp Customer Info’, इसे क्लिक करना होगा. इसके बाद अपनी गाड़ी के बारे में कुछ जानकारियां भरनी होंगी, जैसे गाड़ी का चेसिस नंबर (MA3 फिर इसके बाद 14 डिजिट का अल्फा न्यूमेरिक नंबर). गाड़ी का चेसिस नंबर आपकी RC पर लिखा होता है.

मारुति ने पहले भी रीकॉल की कारें 

 

इसके पहले जुलाई 2020 में मारुति ने 134885 कारों को रीकॉल किया था, इसमें WagonR और बलेनो जैसी कारें शामिल थीं. इन कारों के ईंधन टैंक में खराब मिली थी. इसमें 56,663 यूनिट्स WagonR की शामिल थीं, जबकि 78,222 यूनिट्स बलेनो की थीं. 6 दिसंबर 2019 को भी मारुति ने 63,493 कारों को रीकॉल किया था. इसमें सियाज पेट्रोल स्मार्ट हाइब्रिड वैरिएंट्स,  अर्टिगा और XL6 शामिल थे. इनके मोटर जेनरेटर यूनिट में खराबी पाई गई थी.

 

Check Also

शेयर बाजार में कोहराम, 2 फीसदी टूटे Sensex, NIFTY (राउंडअप)

मुंबई, 27 जनवरी । बैंकिंग और वित्तीय सेक्टरों के शेयरों में बिकवाली के भारी दबाव …