Maritime India Summit 2021: इंफ्रास्ट्रक्चर सेक्टर के लिए केंद्र के पास हैं तीन ‘मंत्र’- पीयूष गोयल

केंद्रीय मंत्री पीयूष गोयल (Piyush Goyal) ने बुधवार को कहा कि इंफ्रास्ट्रक्चर सेक्टर (Infrastructure Sector) के लिए केंद्र सरकार (Central Government) के पास तीन ‘मंत्र’ हैं, जो अपग्रेड, क्रिएट और डेडिकेट हैं. मैरीटाइम इंडिया समिट 2021 (Maritime India Summit 2021) में गोयल ने कहा कि भारत की प्रमुख बंदरगाहों की क्षमता छह सालों में लगभग दोगुनी हो गई है. उन्होंने कहा, “हमने स्मार्ट शहरों, औद्योगिक पार्कों और तटीय आर्थिक क्षेत्रों के साथ एकीकृत बंदरगाहों को विकसित किया है. इंफ्रास्ट्रक्चर सेक्टर के लिए केंद्र सरकार के पास तीन ‘मंत्र’ हैं, जो अपग्रेड, क्रिएट और डेडिकेट हैं.”

पीयूष गोयल ने कहा कि आज समय की जरूरत है कि देश में लॉजिस्टिक्स सेवा (माल पहुंचाने की सेवा) की लागत को घटाया जाए. उन्होंने कहा कि अगर लॉजिस्टिक्स की लागत ऊंची रहती है, तो भारत प्रतिस्पर्धी नहीं बन सकता. गोयल ने बुधवार को मैरिटाइम इंडिया समिट में कहा कि सागरमाला परियोजना में निवेश से देश के समुद्री नौवहन ढांचे में सुधार होगा, ढुलाई गलियारों का विस्तार होगा और इससे ढुलाई की लागत अधिक दक्ष हो सकेगी. उन्होंने कहा कि इससे लॉजिस्टिक्स की मौजूदा लागत को नीचे लाने में मदद मिलेगी, जो अभी 13 से 14 प्रतिशत बैठती है.

‘लॉजिस्टिक्स की लागत ऊंची रहेगी तो…’

उन्होंने कहा कि इस निवेश से लागत को अधिक स्वीकार्य बेंचमार्क आठ प्रतिशत पर लाने में मदद मिलेगी. वाणिज्य और उद्योग मंत्री ने कहा कि यह आज समय की जरूरत है. जब तक लॉजिस्टिक्स की लागत ऊंची रहेगी, भारत प्रतिस्पर्धी नहीं रह सकता. सागरमाला परियोजना का लक्ष्य देश के तटीय क्षेत्रों में बुनियादी ढांचे में सुधार लाना है.

‘प्री कोविड लेवल तक सामानों का परिवहन कर रही रेलवे’

केंद्रीय मंत्री ने जानकारी दी कि 28 फरवरी 2021 को भारतीय रेलवे ने 110 करोड़ मीट्रिक टन सामानों का लदान किया. 28 फरवरी 2020 को भी रेलवे ने इतने सामानों का लदान किया था यानी कोरोना काल के बावजूद रेलवे ने प्री कोविड लेवल तक सामानों का परिवहन कर रही है. दिसंबर 2023 तक पूरा रेलवे का इलेक्ट्रिफिकेशन हो जाएगा जबकि 2030 तक पूरा भारतीय रेलवे नवीकरणीय ऊर्जा से चला करेगी.

Check Also

सरकार ने कोई काम नहीं किया:आप के भगवंत मान ने कोविड रिलीफ फंड को लेकर CM कैप्टन अमरिंदर सिंह से मांगा हिसाब, बोले- कितना पैसा आया, सार्वजनिक नहीं किया

  आम आदमी पार्टी के भगवंत मान ने � मान बोले-राज्य के सरकारी अस्पतालों में …