विहिप गोरक्षा विभाग का पांच दिवसीय अभ्यास वर्ग शुरू, महामंडलेश्वर केशव दास ने किया उद्घाटन

vhp2_999

गुवाहाटी, 23 सितंबर (हि.स.)। विश्व हिंदू परिषद (विहिप) गोरक्षा विभाग के पूर्वोत्तर क्षेत्र का गुवाहाटी के हरियाणा भवन में पांच दिवसीय कार्यक्रम के तहत कार्यकर्ता अभ्यास वर्ग का आयोजन किया जा रहा है। अभ्यास वर्ग के दूसरे दिन शुक्रवार को विभिन्न कार्यक्रमों का आयोजन किया गया। इस अभ्यास वर्ग का समापन 26 सितंबर को होगा।

शुक्रवार को अभ्यास वर्ग का औपचारिक उद्घाटन महामंडलेश्वर केशव दास महाराज ने भारत माता के चित्र पर पुष्पांजलि तथा गौ- पूजन के साथ दीप प्रज्ज्वलन कर किया। कार्यक्रम का संचालन अंकुर बेजबरुवा ने किया। वहीं अभ्यास वर्ग की प्रस्तावना के संबंध में विहिप गोरक्षा केंद्रीय मंत्री एवं पालक उमेश चंद्र पोरवाल ने प्रकाश डाला। विशेष अतिथि के रूप में कृष्ण कुमार शर्मा एवं हरियाणा भवन के अध्यक्ष तथा प्रांत गोरक्षा प्रमुख सुरेंद्र गोयल मौजूद थे। समर घोष, विनोद ओझा ने अतिथियों का स्वागत किया।

इस मौके पर केशव दास महाराज ने कहा कि गौधन भारत का केंद्र बिंदु हैं। गौ का रक्त जब तक भारत की इस पुण्य भूमि पर गिरता रहेगा, तब तक भारत समृद्ध नहीं हो पाएगा। जिस आश्रम में गाय नहीं, जिस घर में गाय नहीं, जिस मंदिर के परिसर में गाय नहीं, वह सभी होटल या धर्मशाला के समान हैं। उन्होंने कहा कि गौशालाओं के साथ-साथ घर-घर गोपालन एवं हर घर गौमाता होनी ही चाहिए।

वर्गाधिकारी पूज्य संत गोविंद गिरी महाराज जूना अखाड़ा मां कामाख्या, तेजपुर विभाग संगठन मंत्री तथा वर्ग मुख्य शिक्षक शशिकांत पाण्डेय, विहिप गोरक्षा केंद्रीय मंत्री एवं पालक उमेश पोरवाल ने वर्ग की प्रस्तावना रखी। विशेष अतिथि (पूर्व आईएएस) एवं विहिप कार्याध्यक्ष प्रमेश दत्त, त्रिपुरा गौरक्षा प्रमुख अरूप देव नाथ, दक्षिण पूर्व प्रांत समर घोष, धरनजो देवी, सोमा, पुरोहित अजीत गोस्वामी, महेंद्र द्वारा हवन के साथ वर्ग का श्री गणेश किया गया।

विहिप का उद्देश्य एवं विस्तार विषय पर विहिप पूर्वोत्तर क्षेत्र के संगठन मंत्री दिनेश तिवारी ने अपनी बातें रखीं। ज्ञात हो कि अभ्यास वर्ग में पूरे पूर्वोत्तर क्षेत्र यानि असम, त्रिपुरा, नगालैंड, मणिपुर, मिजोरम, अरुणाचल प्रदेश, मेघालय राज्यों से 52 प्रमुख कार्यकर्ता हिस्सा ले रहे हैं। अभ्यास वर्ग प्रत्येक दिन प्रात: 6 से 7 बजे तक हवन से प्रारंभ होकर सायं प्रयोगशाला से गो उत्पाद निर्माण से कर्ज मुक्त किसान, रोजगार युक्त नौजवान जैसे विषयों पर चर्चाएं की जा रही है। अभ्यास वर्ग से यह बात साफ हो रही है कि गौरक्षा के क्षेत्र में निश्चित ही यह क्रांति लाने का काम करेगा। आज के अभ्यास वर्ग में विद्या भारती के क्षेत्र संगठन मंत्री पवन तिवारी का उद्बोधन हुआ।

Check Also

05dl_m_637_05102022_1

दशहरे पर नगर निगम ने प्लास्टिक रूपी दानव के खिलाफ निकाली रैली

गाजियाबाद, 05 अक्टूबर (हि.स.)। नगर निगम टीम ने दशहरा पर्व के अवसर पर बुधवार को …