LPG सिलेंडर की होम डिलीवरी का बदला नियम, 1 नवंबर से ये काम करना हुआ जरूरी वरना नहीं मिलेगा सिलेंडर

नई दिल्ली: LPG सिलेंडर की होम डिलीवरी का सिस्टम अब अगले महीने से बदल रहा है. चोरी रोकने और सही ग्राहक की पहचान के लिए तेल कंपनियां एक नवंबर से नया डिलीवरी सिस्टम लागू कर रही हैं. इस नए सिस्टम को डिलीवरी ऑथेंटिकेशन कोड (DAC) नाम दिया गया है. इस सिस्टम के तहत बिना ओटीपी के एलपीजी सिलेंडर आने वाले दिनों में नहीं मिलेगा.

 

क्या है होम डिलीवरी का सिस्टम
अब सिर्फ फोन पर एलपीजी सिलेंडर की बुकिंग करा लेने से होम डिलीवरी नहीं हो जाएगी. बुकिंग कराने के बाद रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर पर एक कोड आएगा. ये कोड डिलीवरी ब्वॉय को देना होगा. अगर कोड नहीं दिया, तो सिलेंडर नहीं मिल पाएगा. कोड बताने के बाद ही सिलेंडर मिलेगा. ये सिस्टम सिर्फ डोमेस्टिक सिलेंडर पर ही लागू होगा, कमर्शियल सिलेंडर पर नहीं.

 

अगर सिस्टम में कोई पुराना मोबाइल नंबर दर्ज है तो रियल टाइम अपना मोबाइल नंबर अपडेट करा सकते हैं. डिलीवरी ब्वॉय के पास ऐप होगा, उस ऐप के जरिए रियल टाइम अपना नंबर अपडेट करवा सकते हैं. इसके बाद तुरंत कोड जनरेट हो जाएगा. ये कोड दिखाकर अपने सिलेंडर की डिलीवरी ले लीजिए.

 

ना आए कोई दिक्कत इसके लिए करें ये काम

 

असुविधा से बचने के लिए आप पहले ही अपना मोबाइल नंबर और घर का पता अपडेट करा सकते हैं. ताकि डिलीवरी के समय कोई दिक्कत न आएं. हालांकि ये सिस्टम शुरुआत में 100 स्मार्ट सिटी में ही लागू होगा. इसके बाद धीरे-धीरे बाकी शहरों और कस्बों में लागू किया जाएगा.

Check Also

केंद्रीय कर्मचारी को दिवाली बोनसः 7,000 रुपये मासिक पारिश्रमिक पर गणना, जानिए गणित…

नई दिल्लीः वित्त मंत्रालय ने केंद्र सरकार के कर्मचारियों के लिए गैर-उत्पादकता सें संबंधित बोनस (तदर्थ …