फेसबुक पर प्यार, फिर होटल बुलाकर बलात्कार, अब धर्म परिवर्तन का दबाव

उत्तरकाशी की रहने वाली एक हिन्दू लड़की को शादी का झाँसा देकर मुस्लिम लड़के ने उसे होटल में बुलाकर पहले तो उसका बलात्कार किया और फिर उसका अश्लील वीडियो बनाकर धर्म परिवर्तन का दबाव बनाया। ऐसा न करने पर उसके वीडियो को वायरल करने की धमकी दी। हालात से परेशान होकर पीड़िता ने एसएसपी अमित पाठक से आरोपित के ख़िलाफ़ कार्रवाई किए जाने की गुहार लगाई है। इस मामले में दर्ज शिकायत के उपरांत एसएसपी ने महिला थाना पुलिस को जाँच कर रिपोर्ट दर्ज करने के निर्देश दे दिए हैं।

ख़बर के अनुसार, स्नातक की छात्रा से आरोपित लड़के ने छ: महीने पहले हिन्दू बनकर दोस्ती की थी। पिछले साल दिसंबर में लड़के ने शादी का झाँसा देकर उसे मुरादाबाद बुला लिया। इसके बाद उसने शहर कोतवाली स्थित एक होटल में न सिर्फ़ उसका बलात्कार किया बल्कि उसका अश्लील वीडियो भी बनाया।

पीड़िता के अनुसार, युवक द्वारा उस पर धर्म परिवर्तन का दबाव बनाया गया, ऐसा न करने पर लड़के ने शादी करने से इनकार कर दिया। साथ ही उसके द्वारा बनाए गए अश्लील वीडियो को सार्वजनिक करने की धमकी दी। मामले पर एसएसपी अमित पाठक ने बताया कि इस केस की जाँच महिला थाना प्रभारी को सौंप दी गई है।

बता दें कि हिन्दू लड़कियों के धर्म परिवर्तन का यह कोई पहला मामला नहीं है। हाल ही में पाकिस्तान में सिंध प्रांत के जकोबाबाद से एक ख़बर सामने आई थी, जिसमें 15 साल की नाबालिग आरोक कुमारी (महक कुमारी) का अपहरण कर लिया गया था। इसके बाद एक वीडियो सामने आया था कि नाबालिग लड़की ने इस्लाम क़बूल कर लिया था और उसने अली रज़ा माची नाम के मुस्लिम लड़के से निक़ाह कर लिया था।

डर के माहौल में जी रहे अल्पसंख्यकों के हालात का पता इस बात से ही चल जाता है कि नाबालिग ने मजबूरी वश इस बात को स्वीकार लिया था कि उसने इस्लाम धर्म क़बूल कर निक़ाह कर लिया। उसने बताया था कि उसने दरगाह अमरोत शरीफ में इस्लाम क़बूल किया और अब उसका नाम ‘अलीजा’ है।

इसके अलावा, पिछले साल पाकिस्तान की ननकाना साहिब में एक सिख लड़की का अपहरण कर उसका जबरन धर्म परिवर्तन कराया गया था। लड़की के परिवार ने आरोप लगाया था कि इस्लाम में परिवर्तित होने के बाद उसे एक मुस्लिम से निक़ाह करने मजबूर किया गया था। इसी तरह के एक अन्य प्रकरण में, एक पाकिस्तानी ईसाई लड़की, जिसकी पहचान हुमा मसीह के रूप में हुई थी, उसका कथित तौर पर अपहरण कर लिया गया और फिर उसे इस्लाम में परिवर्तित कर दिया गया था।

Check Also

जम्मू-कश्मीर का अधिवास कानून बाहरी से शादी करने वाली महिलाओं के लिए फायदेमंद

आजादी के बाद पहली बार ऐसा होगा, जब केंद्र शासित प्रदेश (यूटी) के बाहर के …