सोनीपत: निकाय चुनाव में गोहाना, गन्नौर, कुंडली में कमल खिला

सोनीपत, 22 जून (हि.स.)। राजनीति की बिसात पर सोनीपत में गोहाना, गन्नौर और कुंडली में कमल का खिलना कई मायनों में महत्वपूर्ण है। सांसद रमेश कौशिक ने कहा है कि यह सरकार की नीतियों की जीत है। यह जीत विश्वास काे पुख्ता करती है कि सरकार जनहित की योजनाओं को लेकर जो अपनी समर्पित सेवाएं दे रही है वह सार्थक पहल है।

सांसद रमेश कौशिक ने कहा है कि गोहाना में रजनी विरमानी, गन्नौर में अरुण त्यागी और कुंडली में शिमली की जीत बता रही है कि इन क्षेत्रों में सरकार पर जनता विश्वास रखती है। इस जीत के मायने क्या हैं इसको भी समझ लेना चाहिए कि सबसे पहले जनता के साथ संपर्क बनाए रखना, हर बूथ पर हमारे कार्यकर्ताओं ने तालमेल मतदाता के साथ बनाया, घर-घर जाकर सरकार नीतियों को बताया और इससे यह साफ हो गया है कि आने वाले समय में सरकार भाजपा की ही बनेगी।

गन्नौर में चेयरमेन बने अरुण त्यागी: नगर पालिका गन्नौर में बीजेपी के अरुण त्यागी ने 6110 वोटों के साथ जीत दर्ज की है। अरुण त्यागी को 10438 वोट, कांग्रेस समर्थित सत्यप्रकाश शर्मा को 4328 वोट मिले जबकि आम आदमी पार्टी की सुनीता वाल्मीकि को 2770 वोट मिले हैं।

सोनीपत से कुंडली की चेयरमैन बनी शिमला: भाजपा की शिमला 77 वोटों से जीत कर कुंडली में चेयरमैन बनी है। भाजपा की शिमली 1987 वोट मिले, आम आदमी पार्टी की कुमारी अंजली को 1910 वोट मिले जबकि निर्दलीय सुनीता को 952 वोट मिले।

गोहाना की चेयरमैन बनी रजनी विरमानी: भाजपा की रजनी विरमानी 3046 वोटों से जीत कर गोहाना में चेयरमैन बनी। भाजपा की रजनी विरमानी 9978 वोट मिले, लोक जन शक्ति पार्टी के अरुण कुमार को 6932 वोट मिले जबकि निर्दलीय शशि कुमार उर्फ सुनील मेहता को 5904 वोट मिले हैं।

Check Also

बकरे के लिए लाखों की बोली, लेकिन मालिक ने ‘इस’ वजह से बेचने से किया इनकार

उत्तराखंड: देशभर में 10 जुलाई को ईद मनाई जाएगी. त्योहार से पहले देश भर में बकरियां बेची …