Long Life Secrets: आप भी चाहते हैं लंबी और स्वस्थ जिंदगी! बहुत आसान तरीका…

नई दिल्ली: आप कितने समय तक जीवित रहेंगे यह आपके जीन और आनुवंशिकता पर निर्भर करता है। हालाँकि, विशेषज्ञ इस बात से सहमत हैं कि जीन लंबी उम्र में एक छोटी भूमिका निभाते हैं और आपका आहार और जीवनशैली एक प्रमुख भूमिका निभाते हैं। लंबा, स्वस्थ और सुखी जीवन जीने के लिए अच्छी जीवनशैली का होना आवश्यक है। जिसमें आहार, वर्कआउट और दैनिक आदतें शामिल हैं।

आइए जानते हैं लंबी उम्र के लिए किन बातों का ध्यान रखना चाहिए

बहुत ज्यादा मत खाओ

स्वस्थ और लंबे जीवन और कैलोरी के बीच एक संबंध है। अध्ययनों के अनुसार, कैलोरी में 10-50 प्रतिशत की कटौती करने से आपका जीवन बढ़ सकता है। कैलोरी का सेवन कम करने से अतिरिक्त वजन, मोटापा, चर्बी कम करने में मदद मिलती है।

स्वस्थ प्रोटीन खाएं

विशेषज्ञ सभी को स्वस्थ आहार खाने की सलाह देते हैं, जिसमें प्रोटीन भरपूर होना चाहिए। सूखे मेवे प्रोटीन से लेकर फाइबर और एंटीऑक्सीडेंट तक पोषक तत्वों से भरपूर होते हैं। इनका सेवन दिल को स्वस्थ रखता है, रक्तचाप, सूजन को नियंत्रित करता है और मधुमेह और मोटापे से बचाता है।

दैनिक व्यायाम

अगर आप रोजाना व्यायाम करते हैं तो यह आपको स्वस्थ और फिट रखेगा। स्वास्थ्य विशेषज्ञों के मुताबिक रोजाना कम से कम 30 से 45 मिनट तक टहलें। प्रतिदिन 15 मिनट की गतिविधि भी आपको अकाल मृत्यु से बचा सकती है।

धूम्रपान ना करें

धूम्रपान कई बीमारियों का कारण बनता है, जो खतरनाक होने के साथ-साथ आपकी जान भी ले सकता है। शोध के अनुसार, जो लोग धूम्रपान करते हैं उनकी उम्र 10 साल कम हो जाती है और समय से पहले मौत का खतरा बढ़ जाता है।

तनाव और चिंता से दूर रहें

खराब जीवनशैली हमें कई मानसिक बीमारियों का शिकार बना सकती है। तनाव और चिंता आपके जीवन के वर्षों को छोटा कर देते हैं और हृदय, किडनी और मधुमेह जैसी बीमारियों का खतरा भी बढ़ा देते हैं। विशेषज्ञों के अनुसार, जो लोग तनाव और चिंता में रहते हैं वे अधिक समय तक जीवित नहीं रह पाते हैं। तनाव कम करने के कई तरीके हैं जिन्हें आप अपना सकते हैं।

हमेशा अधिक नींद लें

नींद की कमी या नींद की कमी कई बीमारियों का कारण होती है। स्वास्थ्य विशेषज्ञों का मानना ​​है कि हर रात 7 से 8 घंटे की नींद जरूरी है, यह हमारे शरीर को रिकवरी और सेल फंक्शन में भी मदद करती है। अगर आप दिन में 7 घंटे से कम सोते हैं तो इससे वजन बढ़ने, तनाव और शरीर में सूजन होने लगती है।