लीबिया में होगी ‘लोकतंत्र’ की वापसी, जून में हो सकते हैं चुनाव, UN की रूपरेखा के तहत वोट डालेंगे 28 लाख लोग

लीबिया (Libya) में जून तक चुनाव होने की संभावना है. इसे लेकर संयुक्त राष्ट्र के वरिष्ठ अधिकारी ने कहा कि वह लीबिया को जून तक चुनाव कराने के लिए राजी करने का प्रयास कर रही हैं. उन्होंने बताया कि लीबिया लंबे वक्त तक शासन करने वाले तानाशाह मुअम्मर कद्दाफी (Muammar Kaddafi) की हत्या और 2011 के निष्कासन के बाद से अपने पहले राष्ट्रपति को निर्वाचित करने की दिसंबर की समय-सीमा चूक गया था. संयुक्त राष्ट्र की विशेष सलाहकार स्टेफनी विलियम्स (Stephanie Williams) ने रविवार देर रात बताया कि देश के 28 लाख मतदाताओं के लिए यह अब भी बहुत तर्कसंगत और संभव होगा कि वो जून तक चुनाव कर लें, जो संयुक्त राष्ट्र की मध्यस्थता से तैयार 2020 रूपरेखा के अनुरूप होगा.

संयुक्त राष्ट्र के महासचिव एंतोनियो गुतारेस ने संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद को दी एक रिपोर्ट में कहा है कि यह बहुत अहम है, कि लीबिया की सभी पार्टियां जितना जल्दी संभव हो मुक्त निष्पक्ष,समावेशी और विश्वसनीय राष्ट्रपति एवं संसदीय चुनाव कराने पर ध्यान केंद्रित करें. लीबिया 24 दिसंबर की तय तारीख पर अपना पहला राष्ट्रपति चुनाव कराने में असफल रहा था, जो इस तेल समृद्ध भूमध्य राष्ट्र में दशकों से चले आ रहे संकट को समाप्त करने के अंतरराष्ट्रीय प्रयासों के लिए एक बड़ा झटका था.

लीबिया में 12 हजार लोग जेल में बंद

वहीं एक अन्य रिपोर्ट में संयुक्त राष्ट्र प्रमुख ने बताया कि पूरे लीबिया में करीब 12,000 लोगों को 27 जेलों और निरोध केंद्रों में आधिकारिक रूप से हिरासत में रखा गया है. जबकि कई हजार लोगों को अवैध तौर पर अमानवीय तरीके से रखा गया है. रिपोर्ट में गुतारेस ने कहा कि लीबिया में संयुक्त राष्ट्र राजनीतिक मिशन (यूएनएसएमआईएल) का सरकार और अन्य समूहों द्वारा संचालित केंद्रो में मनमानी, यातना, यौन हिंसा और अंतरराष्ट्रीय कानून के अन्य उल्लंघनों के मामलों का दस्तावेजीकरण करना जारी है.

24 दिसम्बर 2021 को होना था चुनाव

आपको बता दें कि लीबिया के राष्ट्रीय चुनाव आयोग ने 22 दिसम्बर 2021 को बताया था कि तकनीकी तैयारियों के बावजूद, राजनैतिक रोडमैप के तहत, 24 दिसम्बर को राष्ट्रीय चुनाव करा पाना सम्भव नहीं है. आयोग के मुताबिक निर्वाचन विधान और उम्मीदवारों की अहर्ताओं के सम्बन्ध में दर्ज अपीलों के कारण कुछ मुश्किलें आ रही है. इसके मद्देनजर, आयोग ने लीबिया में प्रतिनिधि सभा से पहले दौर के राष्ट्रपति चुनाव को 30 दिनों के भीतर कराए जाने के लिए नई तारीख की घोषणा करने का आग्रह किया था. यूएन प्रमुख ने लीबियाई राष्ट्रीय चुनाव आयोग द्वारा प्रतिनिधि सभा को भेजी गई सिफारिश को अपने संज्ञान में लिया है. साथ ही देश में राष्ट्रपति और संसदीय चुनाव से जुड़ी प्रक्रियाओं के लिए चुनाव आयोग की प्रतिबद्धता का स्वागत किया है.

Check Also

एक्स्ट्रा मैरिटल अफेयर्स पर सख्त हुआ ये देश, सजा देने को तैयार

मुस्लिम बहुल देश इंडोनेशिया की संसद एक विधेयक पारित करने की तैयारी कर रही है। ऐसे …