आते ही आईपीएल में ‘सिकंदर’ बनने वाली टीम की सफलता का राज, आइए बताते हैं…

अहमदाबाद: आईपीएल 2022 की शुरुआत से पहले कई लोगों ने उम्मीद जताई थी कि गुजरात टाइटंस प्लेऑफ में जगह नहीं बना पाएगी. लेकिन टीम सभी की उम्मीदों पर पानी फेरते हुए फाइनल तक पहुंच गई. हार्दिक पांड्या की अगुवाई वाली टीम रविवार को नरेंद्र मोदी स्टेडियम में उद्घाटन चैंपियन राजस्थान रॉयल्स के खिलाफ खिताबी मुकाबले में भिड़ेगी. लेग स्पिनर राशिद खान के अनुसार गुजरात के लिए सफलता शीर्ष पर बल्लेबाजी और गेंदबाजों की भूमिका स्पष्टता करेगी.

राशिद ने प्री-फाइनल के वर्चुअल प्रेस में कहा, मेरे लिए यह महत्वपूर्ण नहीं है कि आपके पास ग्यारह में सभी सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ी हों, हमेशा सभी खिलाड़ी मैच में योगदान नहीं देते हैं. टीम को जिस तरह के खिलाड़ियों की आवश्यकता है, उसमें अपनी भूमिकाएं स्पष्ट करनी पड़ती है. यदि आपके पास शीर्ष क्रम पर बल्लेबाजी करने वाले सर्वश्रेष्ठ पांच से छह खिलाड़ी हैं तो आप एक सर्वश्रेष्ठ स्कोर बनाने में सक्षम रहेंगे. राशिद ने आगे बताया कि टीम में सभी खिलाड़ियों ने टूर्नामेंट शुरू होने से पहले अपनी भूमिकाओं के बारे में स्पष्ट कर दिया था, इससे प्लेइंग इलेवन को एक मजबूती मिली.

गेंदबाज ने आगे कहा, खिलाड़ियों के मन में कोई भ्रम नहीं था कि मेरी टीम में क्या जिम्मेदारी होगी और मैं क्या भूमिका निभाऊंगा. पहले मैच से यह बहुत स्पष्ट था, जो वास्तव में गेंदबाजी इकाई के लिए भी महत्वपूर्ण था. हम यहां आकर बहुत खुश हैं, लेकिन हम फाइनल के लिए चीजों को सरल तरीके से बनाए रखेंगे. इस सीजन में गुजरात के आठ खिलाड़ियों ने ‘प्लेयर ऑफ द मैच’ का खिताब जीता है, जिसमें राशिद ने एक बार और बाएं हाथ के बल्लेबाज डेविड मिलर ने दो बार पुरस्कार जीता. मिलर ने 38 गेंदों में 68 रन की नाबाद पारी के साथ गुजरात को सीधे फाइनल में पहुंचाने में मदद की. वहीं, फिनिशर ऑलराउंडर राहुल तेवतिया और तेज गेंदबाज मोहम्मद शमी उन खिलाड़ियों में से हैं जिन्होंने टीम में महत्वपूर्ण योगदान दिया.

राशिद ने भी मिलर के विचारों से सहमति जताई और टिप्पणी की कि सभी ग्यारह सदस्य मैच जीतने के प्रयास कर रहे हैं, जो व्यक्तिगत पुरस्कार हासिल करने से कहीं ज्यादा बड़ा है. यह सिर्फ एक खिलाड़ी पर निर्भर नहीं है, जैसे वह चार-पांच विकेट लेता है या हमारे लिए जीतने के लिए प्रत्येक गेम में 80-90 रन बनाता है. इसमें सभी ग्यारह खिलाड़ियों का योगदान रहा है.

उन्होंने कहा, हमने टीम में अपनी भूमिका और जिम्मेदारी को समझा. यह सिर्फ ‘मैन ऑफ द मैच’ का खिताब पाने के बारे में नहीं है. टीम को अच्छे ओवरों या कुछ विकेटों की जब जरूरत होती है तो मुझे अच्छा प्रदर्शन करना होता है, जो टीम को जीत दिलाने में अहम योगदान निभाए.

Check Also

विंबलडन 2022 : सेमीफाइनल में पहुंची तात्जाना मारिया

लंदन, 6 जुलाई (हि.स.)। जर्मनी की स्टार महिला टेनिस खिलाड़ी तात्जाना मारिया ने विंबलडन 2022 …