जानें उन 5 संकेतों के बारे में जो बताते हैं कि आप डिप्रेशन से उभर रहे हैं

डिप्रेशन वो बीमारी है, जिसके कारण एक व्यक्ति शारीरिक और मानसिक रूप से कमजोर हो जाता है. उसे ऐसे दिनों का सामना करना पड़ता है, जिसके बारे में उसने कभी सोचा भी नहीं था. डिप्रेशन का सामना कर रहे व्यक्ति के मानसिक स्तर पर इतना बुरा असर पड़ता है कि वो अपने करीबियों से भी दूर होने लगता है. एक्सपर्ट्स की मानें तो ड्रिपेशन (Depression) के भी कई स्टेज होते हैं. कभी-कभी ये इतना बढ़ जाता है कि लोगों को डॉक्टर की सलाह की जरूरत पड़ जाती है. ऐसा माना जाता है कि अगर डिप्रेशन को पीछे छोड़ना है, तो इसके लिए हेल्दी डाइट (Healthy Diet) और बेहतर लाइफस्टाइल (Lifestyle) को फॉलो करना चाहिए.

देखा गया है कि लोग ऐसा करके डिप्रेशन से बाहर आने लगते हैं और उनके पॉजिटिव बदलाव के आधार पर कहा जा सकता है कि धीरे-धीरे वे डिप्रेशन से दूर हो रहे हैं. हम आपको ऐसे ही कुछ संकेतों के बारे में बताने जा रहे हैं, जिनके आधार पर ऐसा माना जा सकता है कि आप डिप्रेशन से उभर रहे हैं. जानें इन संकेतों के बारे में…

गुस्सा कम आना

डिप्रेशन में अक्सर लोगों को ज्यादा गुस्सा आता है और इस कारण वे अपना नुकसान भी कर लेते हैं. डिप्रेशन में इमोशन बदलते हैं, कभी इंसान खुश होता है, तो कभी वह गुस्से में रहता है. ऐसा देखा गया है कि डिप्रेशन से जूझ रहे व्यक्ति को छोटी से छोटी और सामान्य बात पर भी गुस्सा आ जाता है. हालांकि, अगर व्यक्ति को गुस्सा कम आने लगे, तो ये डिप्रेशन से उभरने का एक संकेत माना जा सकता है.

फन एक्टिविटी में शामिल होना

जो लोग डिप्रेशन में होते हैं उनका मन किसी काम में नहीं लगता. वहीं जो डिप्रेशन से बाहर आने लगते हैं, उनका मन फन एक्टिविटीज में लगने लगता है. अगर प्रभावित व्यक्ति गुनगुनाने लगे या फिर वे उनका पसंदीदा काम पेंटिंग करने लगे तो ये भी डिप्रेशन से उभरने का संकेत माना जाता है. कहा जाता है कि ये व्यक्ति के पॉजिटिव होने का लक्षण होता है.

इर्रिटेड कम होना

देखा गया है कि डिप्रेशन से जूझ रहा व्यक्ति अगर इर्रिटेड यानी चिड़चिड़ा रहता है. जो लोग चिड़चिड़े स्वभाव के हो जाते हैं, उन्हें खुश करना मुश्किल होता है. हालांकि, अगर व्यक्ति पॉजिटिव होने लगा है, तो उसमें चिड़चिड़ापन का स्वभाव कम होता दिखेगा. जो व्यक्ति बात-बात पर चिढ़ जाता था, वह अब काफी चीजों को इग्नोर करना सीख जाता है.

बात करने लगना

डिप्रेशन के कारण व्यक्ति अपने करीबियों व अन्य से कनेक्ट रहना पसंद नहीं करता. कई बार उसके घर वाले या दोस्त उससे बात करने की कोशिश करते हैं, फिर भी वह उनसे बात नहीं करता. देखा जाए अगर प्रभावित व्यक्ति लोगों से फिर से बात करने लगे या उन्हें आगे से फोन करके कनेक्ट होने लगे, तो ये डिप्रेशन से उभरने का एक बड़ा संकेत होता है.

Check Also

सोने से पहले लड़के आजमाए घर पर बना यह फेस पैक, मिलेगी चमकदार त्वचा

अक्सर देखा जाता हैं कि लड़के अपनी त्वचा की खूबसूरती को बढ़ाने के लिए लड़कियों …