Lata Mangeshkar Health Update: सिटी अस्पताल के ICU में एडमिट हैं लता मंगेशकर, लेजेंड की हालत में सुधार

स्वर कोलिका लता मंगेशकर (Lata Mangeshkar) कोरोना (Covid 19) की चपेट में आने के बाद अब मुंबई के सिटी अस्पताल (City Hospital) में भर्ती हैं. लेजेंड आईसीयू (Lata Mangeshkar In ICU) में अभी डॉक्टर्स की निगरानी में हैं. शनिवार को लता मंगेशकर को सिटी अस्पताल लाया गया है. 92 साल की सिंगर लता मंगेशकर को पिछले हफ्ते साउथ मुंबई के ब्रीच कैंडी (Breach Candy Hospital) अस्पताल में भर्ती कराया गया था. उस वक्त टेस्ट में लता मंगेशकर कोविड पॉजिटिव पाई गई थीं। पीटीआई के मुताबिक ब्रीच कैंडी अस्पताल के एसोसिएट प्रोफेसर डॉ प्रतीत सामदानी ने लता मंगेशकर की हेल्थ अपडेट देते हुए बताया कि- ‘लता जी को अभी आईसीयू में ही रखा जाएगा. वह अभी अंडर ऑब्जरवेशन हैं. अभी हमें उनकी हालत पर नजर बनाए रखनी होगी औऱ इंतजार करते रहना होगा. आप सभी उनकी सेहत की मंगलकामना करते रहें. फिलहाल वह अभी अस्पताल में ही रहेंगी.’

क्या बोलीं लता मंगेशकर की भतीजी

गुरुवार को लता मंगेशकर की भतीजी रचना शाह ने भी बताया था कि लता मंगेशकर की हालत अब पहले से बेहतर है. उन्होंने कहा था- ‘अभी वह पहले से बहतर स्थिति में हैं. इस बात से हमें सुकून हैं, हम खुश हैं. लोगों की दुआएं काम कर रही हैं. कृपया बस हमारी प्राइवेसी का ध्यान रखें और बनाए रखें.’

शाह के मुताबिक- ‘लता मंगेशकर को आईसीयू में भर्ती इसलिए करना पड़ा है क्योंकि उन्हें ज्यादा केयर की जरूरत है. क्योंकि उनकी उम्र ज्यादा है.’ बताते चलें लता मंगेशकर हिंदी सिनेमा का नायाब कोहिनूर हैं. 13 साल की उम्र में उन्होंने अपना सिंगिंग करियर साल 1942 में शुरू किया था. लता मंगेशकर अब तक 30000 से ज्यादा गाने गा चुकी हैं. जिनमें हिंदी के अलावा और भी भाषाओं के गाने मौजूद हैं.

13 साल की उम्र में बतौर करियर शुरू की थी गायकी

अपने 7 दशक के करियर में लता मंगेशकर ने एक से बढ़कर एक दिल को छू लेने वाले गाने गाए. लता मंगेशकर ने अजीब दास्तां है ये, मुगल-ए-आजम का गाना प्यार किया तो डरना क्या, नीला आसमां सो गया जैसे सुपरहिट गाने गाए जो आज भी फैंस की जुबान पर हैं औऱ सदा रहेंगे.

Check Also

‘बधाई दो’, ‘चंडीगढ़ करे आशिकी’ से लेकर ‘शुभ मंगल ज्यादा सावधान’  इन फिल्मों में दिखाई गई है समलैंगिक रिश्तों की 

साल 1996 में रिलीज हुई फिल्म फायर खूब विवादों में रही थी। नमिता दास और …